#triveni

2010 quotes

अब जला करेगा, कुछ टूट सा जाएगा इन दिनों
टुकड़े मिलें कहीं तो अमावस पे लौटा देना उसे

इश्क़ वाला चाँद पूनम हाल ही में हुआ कमबख़्त

"चाँद बिना हर दिन यूँ बीता, जैसे युग बीते मेरे बिना किस हाल में होगा, कैसा होगा चाँद" -Dr. Rahi Masoom Raza #triveni #त्रिवेणी

9 DEC AT 19:41