फ़िर गिरा देना हमेशा की तरह,
मुझको उठ कर तो संभलने दे ज़रा।


فیر گیرا دینا ہمیشہ کی طرح,
مجھکو اٹھ کر تو سنبھلنے دے زرا

-




Mulakat adhuri hrr baat adhuri...
Hrr adhure lamhe me chipa ek khubsurat pal
jo banayegii ek kahani puri....

-



Allah be kese kese imtihaan leta hai
Hai to qadar nahi
Gaya to sabar nahi

-



"ख्वाब नींद में ज्यादा न दे ll
मुझे उम्मीद से ज्यादा न दे ll
कट चुकी है मेरे नाम से जो,
उस रसीद से ज्यादा ना दे ll"

-



लत लगी थी तेरे नाम की कभी,वो मार रही है मुझे ज़हर बन के,,
जो बहाये थे आसु तूने कभी,वो बरस पड़े मुझ पे क़हर बन के,,

-



Dear love,
I can feel you, but can you??


-


Fetching Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App