#serendipity

158 quotes

एक तू है और एक में हूँ
इतनी क़ुरबत में ये ग़ुरूर क्यों
एक सांझ है और एक रात
एक से जुड़कर दूसरी बनती है
फिर इतना फ़ासला क्यों

जब दिल से रूह मिलती है
तो रंग से रंग क्यों नही,
जब सांस से सांस जुड़ती है
तो रुख से पर्दा क्यों नही

ज़िन्दगी दो तरफ़ा है,
ये जानता हूं मैं
लेकिन मौहब्बत और ख़ुलूस 
तो सिर्फ एक दिल से है,
फिर इतना झगड़ा क्यों

इन्ही रंजिशों में ज़िन्दगी गुज़र गयी
लेंकिन हम नासमझ
आज भी सिक्कों के दो पहलू में
अपनी ज़िंदगी तोलते हैं!

वाह रे फकीरा !!!

#yqbaba#tpmd#fakira#serendipity

3 NOV AT 21:47

यक़ी नही आता की तू नही है
क्योंकि तू आज भी मुझ में जिंदा है
अश्क़ तो सिर्फ लम्ज़ भर का है
मलाल तो तेरी ख़ामोशी से है

कभी उठ कर बैठ जाता हूँ
सोचता है कि तू आ गया
दिल के किसी कोने में एक उम्मीद
अभी भी बाकी है

तू रातों को सोने भी नही देता
और सुबह को रोने नही देता
दर्द है कि कम नही होता
और तू है जो दिल से दूर नही होता

जब-जब मैं तुझे सोचता हूँ
तेरी मदहोशी में कुछ खो सा जाता हूँ
यक़ी नही आता की तू नही है
क्योंकि तू आज भी मुझमे ज़िंदा है

#yqbaba#tpmd#fido#missyou#serendipity

3 NOV AT 21:34