QUOTES ON #PARIVAR

#parivar quotes

Trending | Latest
31 DEC 2018 AT 1:03

लोग हो जाते हैं
घर-परिवार से
अलग-अलग शहरों में रुकने के ठिकाने,
कोई पता, कोई मकान।
एक पीढ़ी
अपने ही घर
हो जाती है किसी गेस्ट-हाउस की चौकीदार,
और अगली पीढ़ी के शहर में मेहमान।
बेधड़क छूटते हँसी और आँसू के फव्वारे
बिखर कर हो जाते हैं
आते-जाते रहने के न्यौतों की
औपचारिक मुस्कान।

ये कैसा बाज़ार है
जिसे बसाने में गली-मोहल्ले-शहर से रिश्ते तक
किराये पर चढ़ रहे हैं,
हो रहे हैं दुकान।

-


10 JUL 2020 AT 23:25

Lafzo ka istamal hifazat se kariye,
Yeh perwarish ka behtarin saboot hai.

-


27 MAR 2021 AT 10:31

साहेब जब रिश्ते टूटने होते है
तो सबसे पहले लोग नजरंदाज
करना छोड़ देते है

क्योंकी जब बांध टूटने वाला
होता है तो सबसे पहले दरार
आना शुरू हो जाती है

-


26 MAY 2019 AT 10:11

If clothes could speak then
we have many advantage's.
clothes will clear they are not responsible
for the wrong think
People can't measure your
status who you are
If clothes could speak people
watch your heart before
watching you

-


22 FEB 2021 AT 16:38



Shakal kitani hi khubsurat ho
Vayavaher mayene rakhta hai...

Vicharon ki shudhata ,Deh ki pavitrata
Sanskaro ka adhar mayene rkhta hai...

Jese Shrishti ke nirmaan me
Sansaar mayene rkhta hai...

Vese Pawan charitar ke nirmaan me
Parivaar mayene rkhta hai...

-


21 JUL 2021 AT 22:34

रिश्तों के फूल आंगन में खिले हो जाहिर है घर में सौरभ रहे
मां बापू सुखी हो घर में जब तक बना‌ घर का गौरव रहे
परछाई कहता है कोई अपना तो सच में परछाई बनें
तकलीफ के कांटे नहीं घर में खुशियों की शहनाई बनें
तकलीफ हो फिर भी हमारे चेहरों पर मुस्कान रखते हैं
हमारा वजूद कुछ नहीं इन्हीं से अपनी पहचान रखते हैं
बापू कभी जाहिर नहीं करते पर प्रेम बेशुमार रखते हैं
मां घर दिल में बापू कांधौ पर पूरा परिवार रखते है
साथ अपना ही रहेगा सफर में ज्यादा जमाना न रहेगा
कामयाबी हमें मिलेगी पर उनकी खुशी का ठिकाना न रहेगा
तसल्ली जरूर देता होगा ये जमाने का अक्सर साथ रखना
पर हौसला बढ़ा जाता है किसी अपने का सर पर हाथ रखना
चंद लफ्ज़ कह देने से जाने कितने रिश्तों को खोते देखा है
न कदर करने वालों को वक्त निकलते अक्सर रोते देखा है
बड़ा तो किसी का भी नहीं पर जरूरी है अपना छोटा संसार होना
दुनिया की हर दौलत क्यूं न हो पर जरूरी है अपना परिवार होना

-


17 MAY 2020 AT 12:17

ना जाने क्या हाल होगा उस घर का
जिसका लाल सरहद पर तैनात होगा
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
कितनी मन्नत मागती होगी वो मां
जिसे पता है उसका लाल हररोज
मौत की कलाई मोडता होगा...
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
कितने सावन बरसे होंगे उस बहन के
नयन से जिसे पता है उसका भाई हर
वक्त लहू की होली खेलता होगा..
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
उस फौजन का तो क्या कहना जिसने
कई करवा चौथ उसके फौजी की
तस्वीरों के सहारे गुज़ारे होंगे....
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳
वो पिता कैसे हर दिन काटता होगा
जिसका कुलदीप फौजी बना होगा
🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳🇮🇳

-


2 AUG 2020 AT 12:48

भरी महफिल में अल्फाज कम पड गये
जब कुछ शख्स परिवार तो कुछ जिगरी यार बन गए❤

-


14 OCT 2020 AT 17:30

एक पान , जिदे चडा ,हो गया वह निज अपने परिवार से दुर,
पेड़ से दूर होकर वह बहुत ही ज्यादा खुश था,
छुटे हम इस भीड़ से, मन ही मन वह मलकाता है,
हवा के साथ बहते-बहते चारों और लहराता है,
दुनिया बहार कि बहुत ज्यादा सुंदर है!! उसे मन में एसा होता है,
पेड़ पर तो रहे चिपककर वहाँ ऐसे कहा घूमते हैं,
वहाँ तो बस दुसरे आके मेरे साथ रोज ठुकराते हैं,
यहाँ हवा के संग मजे से उडक़र जाते हैं,
और झरने के साथ मिलकर मधूर गीत गाते है,
पाणी के साथ उछलते और कूदते वह मलकाते है,
पर.. सुख सिर्फ पल दो पल का है
वो उसे कहा समझमें आता है,
झरने में से बहकर जब वह किनारे पर पहूंच जाते हैं,
जानवरों के पैरों के नीचे जब वह कूचल जाते हैं,
पीड़ा से दुखी होकर बहुत ज्यादा पछताते हैं,तब जाके..
पेड़ से जुड़े रहने का मूल्य उसे समझ में आता है,
आजादी अच्छि लगती हैं सबको पर बहुत मूल्यवान साबित होती हैं,
संयुक्त कुटुंब परिवार बंधन नहीं.. पर जीवन का सच्चा पर्याय है..
_v_p@rm@r

-


1 JUL 2019 AT 8:15

After signing in YQ i feel like:

-