Upload Video

#napowrimo

28680 quotes

YourQuote
YourQuote
आज की रात कहो तुम और मैं सुनता हूँ।।
कहो के तुमने किया याद और मैं सुनता हूँ।।

रश्क़-ए-ज़ुल्फ़ों को कहो आज वो ख़ामोश रहें,
चश्म-ए-साहिर को भी न इस्म-ए-यार लेने दो
आज मलबूस-ए-ख़ुबा लाई है नकहत कैसी
आज है शाम कि यूं रंगीन सी फ़ितरत कैसी
क्यों तुम भी हो ख़ामोश, के क्यों हम भी चुप हैं
मिले हो इतने दिनों बाद और चुप-चुप हैं

आज हम भी हैं नशे में और उल्फ़त भी मेरी
रफ़ाक़तों की करो बात आज मैं सुनता हूँ।
कहो के तुमने किया याद और मैं सुनता हूँ।।

..............Read in caption

आज की रात कहो तुम और मैं सुनता हूँ।। कहो के तुमने किया याद और मैं सुनता हूँ।। रश्क़-ए-ज़ुल्फ़ों को कहो आज वो ख़ामोश रहें, चश्म-ए-साहिर को भी न इस्म -ए-यार लेने दो आज मलबूस-ए-ख़ुबा लाई है नकहत कैसी आज है शाम कि यूं रंगीन सी फ़ितरत कैसी क्यों तुम भी हो ख़ामोश, के क्यों हम भी चुप हैं मिले हो इतने दिनों बाद और चुप-चुप हैं आज हम भी हैं नशे में और उल्फ़त भी मेरी रफ़ाक़तों की करो बात और मैं सुनता हूँ। कहो के तुमने किया याद और मैं सुनता हूँ।। मिज़ाज-ए-मौसम हमसे इत्तफ़ाक़ क्यों न रखे अज़ाब-ए-इश्क़ में इज़ाफ़ा-ए-गुनाह क्यों न करें हमें भी हक़ है की हम आज अपने सजदे में खुदा से बातें हमारी तुम्हारी क्यों न करें ये कूबकूं जो फैला हुआ है अफ़साना मिला है कैस का हमको ये कैसा नज़राना है क्या असल में कहो आज, और मैं सुनता हूँ कहो के तुमने किया याद और मैं सुनता हूँ।। रश्क़-ए-ज़ुल्फ़ = dance of the hair चश्म-ए-साहिर = who does magic through eye इस्म -ए-यार = name of lover मलबूस-ए-ख़ुबा = dress of a beauty नकहत = fragrance रफ़ाक़त = friendship, companionship अज़ाब = torment/agony कूबकू = every where #yqbaba #yqdidi #yqhindi #yqbhaijan #yopowrimo #napowrimo #yqfanclub