Yansi Keim   (Yansi Keim)
4.1k Followers · 37 Following

read more
Joined 7 December 2016


read more
Joined 7 December 2016
27 JUL AT 9:22

बिखरे बालों की तरह जज़्बात हू मैं,
तु सहला दे तो खुद में आज़ाद हू मैं ||

-


27 JUL AT 3:48

Poets are weird
as their pen name.
Their poetry is simpler
than their username.

-


24 JUL AT 17:59

Poetry only shapes the bond we have,
Verses only shape the curves we're yet to see.

-


31 MAY AT 11:01

बाज़ दफा उदासी, बाज़ दफा खुशी सी है |
यह जिंदगी तो नहीं, सिर्फ जिंदगी सी है ||

मैं ठीक हूं इस बात का भरोसा ना करना |
दफ़्न हूं उतनी, जितनी मिट्टी सी है ||

बेवक्त तेरी यादें, बे-सबब तेरे ख्याली |
तलाश भी उसकी जिसकी कमी सी है ||

-


22 MAY AT 9:54

इन ठंड हवाओं के बीच
रजाईयां तो निकाल ली हैं,
सोतेे मगर अब भी,
भीगी पलकों के साथ हैं||

-


21 MAY AT 9:29

ना फासले हो सफर में यह मुमकिन तो नहीं,
ज़हन-ओ-दिल दिल में रखेंगे तुम्हें है इस पर यकीन ||

-


21 MAY AT 7:29

इस मर्तबा उनसे मिले तो क्या हश्र होगा ?
दरिया जा समंदर से मिले, तो दरिया ना होगा ||

-


5 MAY AT 10:16

कभी ठहरो हमारी आंखों में,
यह सरगम है, कहानी भी |
जो पसंद आए वो चुन लो तुम,
वो धुन होगी तुम्हारी ही ||

-


5 MAY AT 10:07

ख्याल बेतहाशा है कमज़र्फ से सीने में,
मगर जब-जब रूबरू हो उनका,
तब आता है मज़ा जीने में ||

-


3 MAY AT 9:08

चंद दिनों की बात नहीं
यह तमाम पलों की कहानी है |
जो बह जाएंगे तेरे बिन
वो आंखों में ठहरा पानी है ||

-


Fetching Yansi Keim Quotes