Yansi Keim   (Yansi Keim)
4.1k Followers · 35 Following

read more
Joined 7 December 2016


read more
Joined 7 December 2016
24 NOV AT 14:37

बदलते मौसम के रिवाज़ में हम सावन से इश्क नहीं लगाते,
फिर क्यों वक्त के मिलाएं कुछ लोग आंखों में नमी दे जाते ||

-


12 NOV AT 6:21

For such a traveler I became
in the labyrinth of our journey.
Do I need to see the wonders of the world,
when everything lies in your beauty?

-


12 NOV AT 6:15

Even the vacuum in your space is
filled with love and compassion.
This is the vibrance I needed,
now that we share the same passion.

-


30 OCT AT 10:11

वो जाम पर जाम
और तेरी बातें तमाम
यह दिल घायल और
तू करें कत्लेआम ||
ना पूछ हाल मेरा
क्या कहूंगा सरेआम?
जो छुपा नहीं सकता
क्या कर दूं बयान?
तू सरगम है कोई
जो बजती ही रहे
मैं वादक नहीं जो
तुझे रोक सके ||
मेरी रूह ठिकाना तेरा
यह जिस्म दीवाना तेरा
छू लूं इसे या बिखर जाऊं?
या कुछ कहे बिना
बस पलट जाऊं?

-


30 OCT AT 9:50

कुछ गीत है जो तुम्हारे ना होने पर सुनती हूं,
क्योंकि जब तुम होते हो तो सिर्फ तुम ही को सुनती हूं ||

-


30 OCT AT 9:40

मसला यह है कि सब पढ़ लेते हैं वो
कहा अनकहा छुपता नहीं जो
क्या इस शायरा की धड़कन भी सुन पाओगे?
इन कच्चे से धागों को पक्का कर पाओगे?

-


30 OCT AT 9:16

बेमतलब की बातें इस बार भी होती
पल दो पल की दूरी नासाज़ यार होती
गम है के इतना हम यहां वो वहां
वरना जन्नत मेरी बाहों में फिर गिरफ्तार होती ||

-


29 OCT AT 0:58

My stained universe needed someone understanding.
For what I got, I swim in no less than among stars.

-


27 OCT AT 10:10

जैसे ज़ाहिर है इश्क, उनके हाथ से बने खाने में,
काश हमारा अंदाज भी समझे वो, पलके झुकाने में ||

-


27 OCT AT 9:43

तुम जिंदगी की कश हो या मेरी कलम से लिखी गजल?
बेपरवाह आबरू को तेरी क्या मेरी मोहब्बत की है भनक?

-


Fetching Yansi Keim Quotes