Tulika Garg   (Tulika garg)
299 Followers · 87 Following

read more
Joined 10 April 2019


read more
Joined 10 April 2019
Tulika Garg 21 MINUTES AGO

इश्क का खुमार , उसपे यूं हो गया
बनारस का दुपट्टा, फिर मशहूर हो गया...

सफेद चादर जैसे ,सिमटी बैठी थी वो,
चुटकीभर सिंदूर से, दिल रंगरेज हो गया...

-


Show more
7 likes · 1 share
Tulika Garg 43 MINUTES AGO

एक आंगन में बरगद के पेड़ जैसा था परिवार
दो कमरे के फ्लैट में सिमटकर,
बोन्साई सा रह गया.....

-


8 likes · 4 comments
Tulika Garg 3 HOURS AGO

फिर जी भरकर बचपन जीऊं
ऐसा दिखूं

-


Open for collab
#YourQuoteAndMine
Collaborating with Abha

11 likes · 1 comments
Tulika Garg 7 HOURS AGO

दो पहियों की गाड़ी थी,
सब कितने करीब थे....
चार पहियों की सवारी से,
मिलने को भी तरस गए.

-


15 likes · 3 comments
Tulika Garg 9 HOURS AGO

जिज्जी ...
तुम नहीं समझ पाओ,
हमार यहां
ऐसे ही होवत है....

(अनुशीर्षक में पढ़ें)

-


Show more
14 likes · 6 comments · 2 shares
Tulika Garg 11 HOURS AGO

पिता का श्राद्ध ,
वो ऐसे कर आता है
निकाल एक पंडित की थाली,
बाकी औरों को खिला आता है.
🙏🙏

-


19 likes · 3 comments · 1 share
Tulika Garg YESTERDAY AT 21:08

इस कदर दबा बैठी
वो अपनी पहली मोहब्बत..
ज़िक्र उसका कभी
सरेआम ना हुआ...

-


Show more
20 likes · 8 comments
Tulika Garg YESTERDAY AT 20:54

#दोस्त..

English is not soo... good

लेकिन एक कोशिश..😀😀

-


12 likes · 4 comments
Tulika Garg YESTERDAY AT 19:58

कह दो उस गिद्ध से,
जो नजरें घर दूसरे के
गड़ाये फिरते हैं...
उसके आंगन की कली
अब फूल बनने वाली हैं....

Read caption..


-


Show more
17 likes · 7 comments · 1 share
Tulika Garg YESTERDAY AT 17:53

प्यारी डायरी...

तूलिका हूं न...
जब तलक पन्नों पर
न बिखरूं ,खुद को
अधूरा महसूस करती हूं

-


17 likes · 3 comments · 1 share

Fetching Tulika Garg Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App