Sunny Prakash Shukla   (Écriture noire)
3.2k Followers · 120 Following

कुछ नहीं, बस शून्य हैं हम..!!! 🙏🏻🙏🏻
Joined 21 January 2017


कुछ नहीं, बस शून्य हैं हम..!!! 🙏🏻🙏🏻
Joined 21 January 2017
Sunny Prakash Shukla 21 JAN AT 21:32

मेरा ना हो बेशक, मुझे ऐतराज़ नहीं!
बस मुझे वापिस ऐसा कर दे जैसा तुझसे मिलने के पहले था।

-


35 likes · 5 comments
Sunny Prakash Shukla 16 JAN AT 19:15

कुछ यूँ दिखाना तुम अपनी मर्दानगी;
दुपट्टा जो सरक जाये किसी लड़की का,
तो तुम नजरें झुका लेना।

-


36 likes · 3 comments · 1 share
Sunny Prakash Shukla 9 JAN AT 12:02

तुमसे शुरू
तुमपे ख़त्म;
मेरी ज़िक्र भी
मेरी फ़िक्र भी।

-


47 likes · 3 comments · 2 shares
Sunny Prakash Shukla 25 DEC 2019 AT 17:43

सियाही चाहें कोई भी ले लो, काली या लाल!
कई यादें घावों को सिर्फ़ हरा ही रखती हैं।

-


62 likes · 5 comments
Sunny Prakash Shukla 22 DEC 2019 AT 11:21

गर, वो साथ होता तो ज़िंदगी और भी हसीन होती!
यूँ तो उनकी यादों का कारवाँ ही बहुत है साँसें चलाने को।

-


57 likes · 23 comments
Sunny Prakash Shukla 29 NOV 2019 AT 12:49

तू चांद है आसमान का बड़ी दूर है मशहूर है!
मैं शख़्स हूँ बेनाम सा, खूबी यही ये कसूर है।

-


89 likes · 4 comments · 2 shares
Sunny Prakash Shukla 26 NOV 2019 AT 10:02

कितना नज़दीक था कभी ये दूर का रिश्ता!
मैं हँसता यहाँ था, वो शरमाते वहाँ थे।

-


Show more
58 likes · 6 comments · 1 share
Sunny Prakash Shukla 22 NOV 2019 AT 9:09

पी मिलन को तरसते हैं दोनों के ही नैन;
मात्र राधा ही नहीं,
कृष्ण भी होते हैं राधा बिन बेचैन।

-


57 likes · 1 comments · 1 share
Sunny Prakash Shukla 20 NOV 2019 AT 10:39

हर रोज कोई नई बात तो नहीं होती करने को,
लेकिन रोज वही बात घुमा फिरा कर करती है!
असल में उसको हर रोज मेरी आवाज सुननी होती है,
सच है, माँ तो माँ होती है।

-


59 likes · 2 comments · 5 shares
Sunny Prakash Shukla 18 NOV 2019 AT 13:22

जो लहराते हैं तलवारें दंगों में राम का नाम लेकर,
मैं हिस्सा उस आवाम का नहीं।
मुझे धर्म का ज्ञान न दे,
मैं त्रेता के राम का भक्त हूँ तेरे आज के राम का नहीं।

-


47 likes · 1 comments · 1 share

Fetching Sunny Prakash Shukla Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App