Suman Joshi   (Drsuman)
38 Followers · 13 Following

Joined 12 March 2018


Joined 12 March 2018
Suman Joshi 7 APR AT 9:15

किसी की ओर देखना कविता है
और किसी का चिंतन उपन्यास।।

-


9 likes · 1 comments
Suman Joshi 2 APR AT 21:29

दहेज़ क्या है ?
ये उस बाप से पूछना.......
जिसकी जमीन भी चली गयी
और बेटी भी।

-


13 likes · 2 comments
Suman Joshi 1 APR AT 7:30

कद बड़ा नही करते हैं एड़ियाँ उठाने से।
ऊचाईयां अक्सर मिलती है सर झुकाने से ।।

-


7 likes
Suman Joshi 28 MAR AT 9:36

तुम्हें पा लूँ अब ये हसरत नही है ।
पर तुम्हें भुला के जीने की भी
नीयत नही है।।

-


6 likes
Suman Joshi 24 MAR AT 13:02

तलाश कर रही हूँ उन अधूरे, सूने, फड़फड़ाते पन्नों की,
जिनमे मैंने कभी लिखा था साथ तेरा ।

-


8 likes
Suman Joshi 21 MAR AT 8:07

मैं रंग हूँ,
और तू रंगोली ।
मैं एक तरह का दाग,
और तू ख़ूबसूरत होली ।

-


5 likes · 1 comments
Suman Joshi 18 MAR AT 21:57

पिता के बिना पूरी ज़िंदगी बिखर जाती है ।
मैं तो बस उस ज़िंदगी को
समेटने की कोशिश कर रही थी ।
पर मुझे क्या पता था
मेरी ही ज़िंदगी बिखर जाएगी ।

-


7 likes
Suman Joshi 17 MAR AT 11:54

वो रंग चढ़ा है तेरा, जो रंग न उतरे कभी।
वो इश्क़ का सफ़ेद रंग।
जो न जाने छल, कपट और न मोल।
ये रंग न देना चाहूँ किसी को।
रंग तेरी हथेलियों का,
तेरी बातों का,
तेरी अठखेलियों का,
तेरे प्यार भरे नगमों का,
वो तेरे माथे के टीके का रंग, जो लग गया इस मांग में।
वो तेरी मुस्कान का रंग,
जो घूमती रहती है मेरी आँखों में,
वो तेरे ख्यालों का रंग, जो सोचता नही किसी और को।
वो रंग चढ़ा है तेरा, जो रंग न उतरे कभी।
वो तेरे इश्क़ का सफ़ेद रंग।
अब न लगने दूं ये रंग दुबारा मैं।
न चाहूँ लगाना फिर से किसी के माथे का रंग,
वो रंग जो लग गया तो लग गया।
अब न जाये,
लाख छुड़ाले कोई, ये रंग अब न जाये।
वो जीत गए, मैं हार गयी,
ये है मेरी हार का रंग।।





-


16 likes
Suman Joshi 12 MAR AT 22:25

Teri Ankon me chhipi batein kam magar,
jhalak Jane ko kafi h..
Mere hath me jam kam he sahi magar
Chhalak Jane ko kafi h ..
Vo har baat par humko samajh baithe hain Majboor,
Ye tanha dil he sahi magar dhadak jane ko kafi h ...

-


5 likes
Suman Joshi 15 FEB AT 13:54

शराब से नफ़रत तब तक रही,
जब तक तुमसे इश्क़ रहा।
अब ना ही वह नफ़रत है,
ना ही वह इश्क़ रहा ।।

-


9 likes · 3 comments

Fetching Suman Joshi Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App