Shadab Nanautvi   (Shadab Nanautvi ✍)
419 Followers · 232 Following

read more
Joined 21 November 2019


read more
Joined 21 November 2019
11 MAY AT 23:16

ताहज्जुद की पाबंद इक लड़की का दिल दुखाकर,
मेरी जन्नत अब फजर में ख़ुदा से बहू माँग रही है !!

-


29 APR AT 22:52

कागज़ की कश्ती जो बहाई बारिश मैं।
मुझे बीता बचपन याद आगया है

-


29 APR AT 22:50

खो जाने से
कुछ नही मिलने वाला ।

-


11 APR AT 20:37

इससे पहले के ये मिट्टी का बदन खाक़ बने
बा वुज़ू हो के मुसल्ले पे जवानी रख दो

-


11 APR AT 11:06

तड़पते है नींद के लिए तो यही दुआ निकलती है !!!
बहुत बुरी है मोहबत,किसी दुश्मन को भी ना हो…!!

-


11 APR AT 11:05

तुम एक चिराग़ की खै़रात दे रहे हो मुझे।
मैं आफताब से दामन छुड़ा के आया हूं।।

-


9 APR AT 0:49

बांध दो कोई ताबीज मुझे 💖
ये मोहब्बत मेरे पिछे पड़ी हैं !!💖

-


9 APR AT 0:47

दर्द जिस फ़िराक में थे, तेरी यादों ने वो काम कर दिया,
नोंच कर रूह को मेरी, जिस्म परिंदों के नाम कर दिया।

-


9 APR AT 0:46

इश्क को शिर्क की हद तक न बढ़ा
यूं ना मिल हमसे खुदा हो जैसे..

-


9 APR AT 0:44

तुम एक चिराग़ की खै़रात दे रहे हो मुझे।
मैं आफताब से दामन छुड़ा के आया हूं।।

-


Fetching Shadab Nanautvi Quotes