Sanidhya singh Rajput   (सानिध्य सिंह उमठ...)
842 Followers · 2.5k Following

read more
Joined 29 December 2018


read more
Joined 29 December 2018

Aye zindgi मुझे कहती है, कि गलती दोबारा मत करना😞

Savdhan india कहता है अपनो से सतर्क रहो😐

Crime alert कहता है अन्जान पे कभी Trust मत करो😐

लेकिन आखिर मे Pyar tune kya kiya कहता है कि तेरे पास खोने को बचा क्या है,इस नये सफर मे सबसे प्यार किये जा, हो सकता है कोई बहुत प्यारा मिल जाये😍

-


15 likes · 4 comments

तुने देखी है तकलीफे बहुत तुझे एक दिन सुख दे जाँऊगा,
तेरा बेटा हूँ इस दुनिया से मैं तेरा नाम कमाकर जाँऊगा..

तेरे संघर्ष से मैं प्रेरित हूँ ,तेरे संस्कारो का श्रेरित हूँ,
तेरे सजदे मे मैं रहता हूँ ,अपना खुदा तुझे कहता हूँ...

तेरी सांसो मे मेरी सांसे है तेरी बातो से मेरी बाते है,
हर गम से तुने बचाया है माँ तुने फर्ज निभाया है..

मेरी पहली मोहब्बत तुझसे माँ,मेरी सारी हकीकत तुझसे माँ,
तेरे साथ हमेसा रहना है न होना कभी दूर मुझसे माँ..

भगवान नही है धरते पे इसिलिए तो बनाई है,
मुझे आँच कभी न आने दी ,माँ तु मेरी परछाई है...
माँ...😘

-


21 likes

जब जिन्दगी ही दगा करती है
मौत दुआ करती है
नशीबो से बनती नही,किस्मते अपनी है नही
खुशी की वजह नही ,हँसी आती नही
फिर भी चेहरे पे मुस्कान लिए चलना पड़ता है
हम तन्हा लोगो कभी-कभी खुद से ही लड़ना पड़ता है,
कही कोई कमजोर न कह दे हमे दुनिया इस डर से महफिल मे खुश होना पड़ता है
मगर साहब हमारे दिल का भरा कसाला हल्का करने के लिए हमे छूप के रोना पड़ता है..

-


Show more
16 likes · 2 comments

सब कुछ खो बैठे तुझे पाने के लिए
फिर भी तेरा मोल न लगा पाये
खुशियो के तराजू मे तोलना चाह मगर तेरा तौल न लगा पाये..
एये जिन्दगी तु ही बता दे कैसे खरीद लू तुझे अपने हिस्से मे
तु खुद को बैच दे मुझे जिन्दगी तेरी किमत कम कर जरा तो रहम कर..

-


Show more
14 likes

गूरूर तो होगा ही न मुझे
मेरे दर्द मुझे शिद्दत से जो चाहते है...

-


17 likes
Sanidhya singh Rajput YESTERDAY AT 15:45

क्या लिखूं भाईयो के लिए
जो भी रिश्ता लिखूं भैया ही लिखा जाता है..

खुदरत से मिली सौगात हो तुम..
इस छोटे भाई के जज्बात हो तुम...
जरूरी तो नही बात हर दिन हो हमारी मगर भाई जो दिल मे हमेशा बसे हो,
वो खूबसूरत याद और ऐहसास हो तुम...
मेरे लिए तो सबसे ज्यादा भैया लोग खास हो तुम..
💕💕💕💕❤❤💕💕❤❤💕💕
Happy brothersday bhaiya ji..😘

-


17 likes · 2 comments · 5 shares
Sanidhya singh Rajput YESTERDAY AT 14:11

सीख गया हूँ खुद ही अपने जख्मो को मरहम लगाना,
लोग अक्सर मरहम के बहाने हमेशा नमक से जलाते थे...

-


12 likes · 1 share
Sanidhya singh Rajput YESTERDAY AT 9:11

मुझे कुछ अगल कर जाना है
अपना भविष्य बनाना है....
मैं खाक सा हूँ आज नजर मे दुनिया की,
मुझे खुद को आग बनाना है..
नही रह सकता इस छोटे से पिजड़े मे
मुझे आसमान मे उड़ने जाना है....
मुझे जमीन का पशु नही रहना,
मुझे तो परिन्दा बन उड़ जाना है...
जिनके नजरिये मे मैं कुछ नही ,
मैं क्या हूँ उन्हे ये दिखाना है.....
हा माना दुनिया की नजर मे मेरे सपने बेहुदा है,
मगर क्या करू दुनिया मेरी राह जुदा है...

-


Show more
19 likes · 4 comments
Sanidhya singh Rajput YESTERDAY AT 8:58

न जाने कोन-सी राहो मे ले आया वक्त मुझे
जँहा न रूक सकता हूँ और न चल सकता हूँ...

-


11 likes
Sanidhya singh Rajput YESTERDAY AT 8:47

आज कल कम होने लगी है तेरी बाते ख्वाबो मे
लगता है ख्वाबो ने किसी ओर के ख्वाब सजाने की तैयारी की है..

-


16 likes

Fetching Sanidhya singh Rajput Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App