Sahil Bhardwaj  
14.2k Followers · 150 Following

read more
Joined 21 June 2017


read more
Joined 21 June 2017
Sahil Bhardwaj 18 JAN AT 22:58

Winter’s shiver slides down my nerves
it is being watched all the time
in the shadow, in my eyes
I see it's cloth, its black tire
It enforces me, and I run apace...

I walk through trails in the snow
darkness all around, all hollow
I fail to speak, only follow
why I'm following, am I creative or
fool in graveyard
it leaves no footprints, makes no sound
if I walk I may not be found
it enforces me, and I run apace...

As much steps I make
as close it comes
Fear, funk, terror sums
it draws breathe, halts nerves
if I follow more I will lost to mists
it enforces me, and I run apace...

Falling now, around the bend
I will never be seen again
too many teeth, there’s blood on snow
the last sight I will ever know
it rips my lungs out and I die
now it is dead and so am I
I enforces you, and so now you must run apace...

-


Show more
155 likes · 34 comments · 1 share
Sahil Bhardwaj 17 JAN AT 16:45

जहाँ चारा माल-जाल नाहीं
नेतवे सब चरि जाला

जहां देशवे के नेतवा
लोगन के भरकावेला

जहां देशवे के लोगवा
देशे के नोकसान पहुंचावेला

जहां देशवे के लइकन
देशे के टुकड़ा-टुकड़ा करे के
नारा लगावेला

जहां देशवे के सिपाही
दुसमन से मिल जाला

जे देशे लइकी पूजे जाला
उहे देशे लइकी जलावे जाला
*****Read in caption*****

-


Show more
208 likes · 77 comments
Sahil Bhardwaj 16 JAN AT 12:42

सारी ज़िदें मैं पूरी करूँ तेरी
मेरी आगोश में तुझे मुस्कुराता जो मैं देखूँ
हर ख़ुशी कदमों में ला दूं तेरी
अंग-अंग में तेरे मेरी मोहब्बत की खुश्बू
महकता जो मैं देखूँ...

यकीं होता है मुझे किस्मत पे
जब जब अपना आशियां सजाते तुझे मैं देखूँ
किस हद तक तुझसे मुझे मोहब्बत है मेरे हबीब
हर लम्हें में तुझे मेरा होता हुआ मैं देखूँ...

अरसे से जिस लम्हें का
इंतज़ार किया है मैनें उसे ख़्वाबों से
हकीकत बनता तेरी आँखों में मैं देखूँ
मेरी जान-ए-हयात दुल्हन के लिबास में तुझे
और तेरे माथे पे सिंदूर अपने नाम का मैं देखूँ...

-


Show more
251 likes · 123 comments · 5 shares
Sahil Bhardwaj 14 JAN AT 17:44

Now, folks may mean well
when they say it can't be done,
then who is to lose
If they are actually wrong...

But if you take note of why
some doubt through your point of view
and stick close to those
who has seen the strength in you...

If you put your faith in lord,
no matter how much hard it may seem,
if you work hard, if you believe,
you will achieve your dream...

What others think,
whether or not
you're strong or smart,
sometimes it really doesn't count
as what you believe in your heart...

-


Show more
253 likes · 52 comments
Sahil Bhardwaj 12 JAN AT 15:18

अंधेरे के सफ़र को जुगनू आसां करते है
पर रौशनी बिना दूरियां तय होती है कहां
आता है आसमां जमीं से मिलने
पर है घाट पर ठहराव कहां..

आशाएं बहुत है ज़िन्दगी से
पर हर सुबह होता है सवेरा कहां
आते है उम्मीदें लेकर नया आगाज़ करने
पर है घाट पर ठहराव कहां..

मोहब्बत का आसरा हमसफ़र से है
पर बिना मोहब्बत दिए मोहब्बत मिलता है कहां
वफा़ ढूंढ़ कर लौट आने की सोचते है
पर है घाट पर ठहराव कहां..

-


Show more
326 likes · 88 comments · 1 share
Sahil Bhardwaj 10 JAN AT 23:14

ज़रा मोहलत तो देते तुम
शायद वो सब खुशियाँ तुम्हें मैं दे पाता
हाँ हालात कुछ ठीक नहीं थे मगर
पर थोड़ी देर जो रुक जाते तुम
तुम्हारी दुनिया खुशियों से मैं सजा देता...

ज़रा मोहलत तो देते तुम
शायद बिगड़ी बात मैं बना लेता
हाँ कुछ बहक गए थे मेरे कदम
पर थोड़ी देर जो रुक जाते तुम
अपनी दुनिया तुझ तक ही सीमित मैं कर लेता...

ज़रा मोहलत तो देते तुम
शायद तुम्हें जाने से मैं रोक लेता
हाँ बहुत देर कर दी थी मैंने
पर थोड़ी देर जो रुक जाते तुम
तुम्हें अपनी बाहों में मैं थाम लेता...

ज़रा मोहलत तो देते तुम
शायद ऐसा मैं होने नहीं देता
हाँ तुम्हारे जज़बात कभी समझे ना मैंने
पर थोड़ी देर जो रुक जाते तुम
तुम्हें यूँ अपनी दुनिया से मैं जाने नहीं देता...

-


Show more
285 likes · 78 comments · 1 share
Sahil Bhardwaj 9 JAN AT 13:26

खुली हो आंखें तो तुझे पास देखूं
बंद हो तो नींदों में
ख़्वाब मैं तेरे नाम देखूँ,

अपनी मोहब्बत का चर्चा मैं तेरे नाम देखूं
जब तलक धड़के मेरा दिल
इसे धड़कता मैं तेरे नाम देखूँ...

-


305 likes · 73 comments · 1 share
Sahil Bhardwaj 7 JAN AT 12:03

हममें से कौन खुश है जुदा होके
जानते हम दोनों ही है
मोहब्बत करते है, बेवफाई नहीं की
जानते हम दोनों ही है...

खयालात तो मिलते थे हम दोनों के
जाने कैसे बदल गये
बेकसी में हम दोनों ही है,
तस्वीरों में जुदा हुए तो क्या हुआ
तकदीरों में जुदा तो, हम दोनों ही है...

हमारी खुशी नहीं है अलग होने में
तन्हाई के शिकार, हम दोनों ही है
जीने की ख्वाहिश तो साथ की थी
अकेले जीने के दोषी, हम दोनों ही है...

हममें से कौन खुश है सच कहूँ तो
मैं ही नहीं, तकलीफ़ में तो हम दोनों ही है,
मोहब्बत थी, है और रहेगी
और ये बात जानते हम दोनों ही है...

-


Show more
292 likes · 71 comments · 3 shares
Sahil Bhardwaj 5 JAN AT 17:30

देख के उसको पहली बार
निगाहें मेरी हैरान हो रही थी
एक कहानी मेरे नज़्मों से
उसकी चाहत तक शुरू हो रही थी...

उसके चेहरे का नूर कुछ अलग ही था
जो मुझे अपना कर रही थी
उसकी आँखों में एक अलग ही नशा था
जो मुझपे हर मुलाकात में
तिलस्म ही कर रही थी...

फुर्सत के बड़े हसीं दिनों में
उसने अपने दिल में पनाह दी थी
वो आयी थी मेरा होने
ये बात हर लम्हें में उसने मुझसे कही थी...

वो मेरी हो रही थी
जैसे लहरें साहिल से मिल रही थी
सिलसिला तो खुशियों का था
पर कहीं न कहीं
उसे मेरी ही नज़र लग रही थी...

-


Show more
305 likes · 102 comments · 5 shares
Sahil Bhardwaj 4 JAN AT 16:25

I want to see you
living your dreams,
achieving honor and being happy,
also I want to be
a part of your life when you do,
since I keep dreaming
spending my life with you..

********************

visiting adorable places with you,
sharing moments
where we are both breathless, lost for words.
I want to see you smiling, hear you laughing,
And I want seeing me loving you...

-


Show more
305 likes · 87 comments · 2 shares

Fetching Sahil Bhardwaj Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App