823
Quotes
64.9k
Followers
730.9k
Following

Sahani Baleshwar (THE BLACKMAILER 🖤)

Boy 👦



November 13 , scorpion🦂
Sahani Baleshwar 23 SEP 2018 AT 20:04

तुमसे कहने से डरती हूँ
तुम्हारे साथ होकर भी तुमसे दूर ही रहती हूँ |

चेहरे पर मुस्कान
तो अंदर टूटा हुआ दिल लेकर चलती हूँ |

तुम्हें पता भी हैं
कि मैं रोज़ कितनी मरती हूँ |

-


1239 likes · 84 comments · 22 shares
Sahani Baleshwar 23 SEP 2018 AT 16:22

ख़त्म कर रहा हूँ
मैं अपना सफर ,
झूठी मुस्कुराहट ओढे़ बैठी हैं ये ड़गर |

क्यूँ कुछ बातों से
मैं अाज भी अंजान हूँ ,
अपनी नाकामयाबी पर मैं तो शर्मसार हूँ |

मेरे होने या ना होने से
किसी को कुछ फर्क नहीं पड़ता ,
चाहे रहूँ जिंदा या रहूँ मुर्दा |

क्यों ये दर्द
तेरी यादों से बेहिसाब हैं ,
क्यों ये दिल मेरा आज भी परेशान हैं |

-


829 likes · 36 comments · 10 shares
Sahani Baleshwar 22 SEP 2018 AT 10:25

I'm celebrating my life with my Tanhai
What should I say more to my Parchayi

I hardly remember
when was the last time I smiled

Cause you know
the day passes through two phrase
Known as the dark and the light.

when you left ,
you left me to cry in my razai every night

Or should I say
everyone comes in our lives to teach the lesson
" ZINDAGI KABHI NAHI RUKTI HAI MERE BHAI "

-


Show more
693 likes · 28 comments · 13 shares
Sahani Baleshwar 21 SEP 2018 AT 21:53

Someday you too will come to that point
like I did, to collect my memories.

-


834 likes · 27 comments · 11 shares
Sahani Baleshwar 20 SEP 2018 AT 13:22

एक तन्हा दिल , इश्क़ का मारा |

चला फिर , इश्क़ करने दोबारा |

तेरी यादों को संभाले , घूमता हैं हर गली - हर चौंबारा |

देख तेरे प्यार ने , मेरा क्या हाल हैं कर डाला |




-


Show more
655 likes · 37 comments · 10 shares
Sahani Baleshwar 19 SEP 2018 AT 12:29

तुम आओगी ना ?

एक बार फिर अपनी आँखों में प्यार
मेरे लिए लाओगी ना ?

कर रहा हूँ इंतजार
तुम और तो ना सताओगी ना ?

घड़ी के ये काँटे , पल-पल दूरियाँ हैं बढ़ाते
उन दूरियों को तुम मिटाओगी ना ?

क्या एक बार फिर
तुम मेरे लिए आओगी ना ?

तुम आओगी ना ?

- Sahani Baleshwar





-


563 likes · 43 comments · 10 shares
Sahani Baleshwar 18 SEP 2018 AT 16:28

लोगों की इस भीड़ में
चला रहा हूँ मैं भी बनकर राहों का हमराही ,
मंजिल से पहले
दिल ने फिर एक चोट गहरी खाई |

अपना दर्द दिखाकर
बदले में दोस्ती पाई ,
सूरज ढ़लते ही
दूर हो गईं हर एक परछाँई |

-


587 likes · 21 comments · 9 shares
Sahani Baleshwar 16 SEP 2018 AT 21:23

उन सात वादों के साथ
मैं अपनी जिन्द़गी बिता रहा हूँ ,
पकड़ तेरी यादों का दामन
मैं फेरें लगा रहा हूँ |

हूँ कितना मजबूर
चेहरे पर चेहरा लगा रहा हूँ ,
पल-पल तुझे जाते देख
मैं तो मरते जा रहा हूँ |

-


629 likes · 48 comments · 6 shares
Sahani Baleshwar 14 SEP 2018 AT 11:33

काली चाय भी खुद पर विश्वास करती हैं |
क्योंकि उसे पता होता हैं कि प्यार कभी अधूरा नहीं होता |

चाहे वक्त लगे थोड़ा ,
दूध ढूंढते-ढूंढते उनके पास आ ही जाता हैं |

-


600 likes · 48 comments · 34 shares
Sahani Baleshwar 14 SEP 2018 AT 1:34

रहे तु जिन्द़गी भर आबाद
तेरी खुशियों के समंदर से ना हो कोई व्यापार |
तेरे सीने में धड़कता तेरा दिल ख़जाना हैं ...
लहरों को अपनी मंजिल की सीढ़ी बना ,
तुझे इन पर चलते जाना हैं |

ना होगी कभी काली परछाँई से तेरी मुलाकात
अँधेरों से मैं रोज करते रहता हूँ बात |
बस इतना सा एक फसाना हैं ...
कभी वक्त मिले ,
तो मेरे इश्क़ के अधूरे धुन को तुझे गुनगुनाना हैं |

-


546 likes · 66 comments · 2 shares

Fetching Sahani Baleshwar Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App