Ravindra Bunkar❤   (बुनकर 💕)
929 Followers · 162 Following

नजरिया हर वक़्त आपको
अपनी बात रखने का मौका देता है
Joined 11 April 2018


नजरिया हर वक़्त आपको
अपनी बात रखने का मौका देता है
Joined 11 April 2018
Ravindra Bunkar❤ 14 JUN AT 17:02

वक़्त तेरा ही आने वाला था यार,
तुझे इतनी जल्दी क्यों थी चले जाने की
😞😞😞

-


Show more
30 likes · 4 comments
Ravindra Bunkar❤ 27 APR AT 8:40

शहर अपना है ! तुम जलाते क्यों हो ,
ख़ुद ही अंधेरे के पास जाते क्यों हो
माना मजबूरी है कुछ काम भी रहते होंगे
लेकिन वो जिन्दगी से बढ़कर है ये जताते क्यों हो
कुछ दिन की बात है हम साथ होंगे
इस से पहले मौत को पास बुलाते क्यों हो
शहर अपना है यही रहेगा
तुम घूम कर ये बात बताते क्यों हो
जिन्दगी रही तो ये जहान अपना है
इतनी-सी बात भी ख़ुद को समझाते क्यों हो
शहर अपना है तुम जलाते क्यों हो ।

-


34 likes · 4 comments
Ravindra Bunkar❤ 12 APR AT 10:47

मन ना लगने का तो एक बहाना है ,
बात ये है तुम हो जहाँ साथ नज़र आना है

-


31 likes · 4 comments
Ravindra Bunkar❤ 13 FEB AT 9:55

इतना भी रंग क्यों बिखेरता है बेरंग मौसम ,
हमें हर सुबह की याद कहा रहती है ..

-


43 likes · 6 comments
Ravindra Bunkar❤ 13 JAN AT 19:03


तू चाँद है ! तो देखने वालों का लिहाज़ भी रख ,
हम कब तक इस छत पर तुम्हारा इंतज़ार करेंगे ।

-


39 likes · 10 comments
Ravindra Bunkar❤ 12 NOV 2019 AT 18:04

तुम रख लो ना मुझे संभाल कर ,
मुझसे अब संभला नही जाता

-


53 likes · 7 comments
Ravindra Bunkar❤ 4 NOV 2019 AT 21:01

तुम खुद को जगाकर रखना थोड़ा
मुझे भी नींद आज शायद ही आये..।

-


55 likes · 7 comments
Ravindra Bunkar❤ 28 OCT 2019 AT 13:02

पटाकों का दम निकलना ही था ,
छत पर तुम जो आ गए थे

-


59 likes · 3 comments
Ravindra Bunkar❤ 27 OCT 2019 AT 23:42

तुम आये नही
राम तो आ गए थे

-


55 likes · 4 comments
Ravindra Bunkar❤ 24 OCT 2019 AT 18:23

जितना वक़्त हमसे नजरें मिलाने में लगाते हो।
इस से अच्छा है आप इन्हें चुरा ही लो

-


54 likes · 5 comments

Fetching Ravindra Bunkar❤ Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App