Pulkit Sharma  
715 Followers · 52 Following

read more
Joined 30 December 2017


read more
Joined 30 December 2017
Pulkit Sharma 12 JUL AT 11:40

भय भी एक प्रकार की भावना ही है जो आपको विवेकशील बनाती है।

-


Show more
21 likes · 10 comments
Pulkit Sharma 11 JUL AT 18:04

स्वयं की ही ज़िम्मेदारी है
फिर भी चिंता किस बात की है जब बैठा पालनहारी है

-


Show more
19 likes · 22 comments
Pulkit Sharma 8 JUL AT 20:43

सपनों को किसी के धोखा दूं
ऐसा मेरा व्यक्तित्व नही
मान लिया अपना एक वार जिसे
फ़िर उस बिन मेरा अस्तित्व नहीं

-


Show more
22 likes · 59 comments
Pulkit Sharma 8 JUL AT 11:14

मानसून आ गया है
मौसम में खुमार आ गया है!

लोटें जमीन पर सर्प की भांति
कीचड़ में खेलें कुश्ती के दाव
खेलें फुटबॉल पानी में
तैरायें कागज़ की नाव!!

गिट्टी पानी में मार उस पार पहुँचाये
पहुँच जाये तो उछल उछल कर
जोर जोर से ख़ुशी मनाएं!

कूद पडें पानी में ज़ोर से
मच जाए पानी में बबंडर
कुलांचे भरें हिरन की भांति
नाचें मदमस्त मोर से सुंदर !!

आओ भीगे बारिश में बेधड़क
कि बारिश में ये बच्चा मन फिर बाहर आ गया है!


-


Show more
31 likes · 17 comments
Pulkit Sharma 7 JUL AT 18:58

अक्सर पीले रंग से लिखती है
पर अपने हाथ पीले होने से डरती है
सबको खूब गुदगुदाती है
लड़ती भी है खूब ये
जब कोई बात इसको नही भाती है
बाहर से ये है चुलबुल
पर अंदर से गम्भीर भी है
हास्य के साथ-साथ लेखन में
छोड़ती व्यंग के तीर भी है
आलू के पराठे भाते हैं इसको
दयालु भी है थोड़ी सी
बातों में ये यह सबकी नानी
Yq पर ये दोस्त हमारी
अत्यंत प्यारी सबसे पुरानी।।






-


Show more
28 likes · 49 comments
Pulkit Sharma 7 JUL AT 9:38

सृजन मिट्टी से अपना माना है

हाड़ मांस का पुतला ये
अंत में मिट्टी हो जाना है

मिट्टी होंने से पहले
कर्म पथ को ज़िंदा रख

इस मिट्टी का कर्ज चुका दे
वतन से अपने दिलदारी रख


-


Show more
24 likes · 8 comments
Pulkit Sharma 6 JUL AT 12:48

खुश रहा करो
खुशी होती है
तुम्हारी खुशी से

-


Show more
19 likes · 9 comments
Pulkit Sharma 3 JUL AT 23:32

थोड़ा धैर्य धरो
बात करो न मुझसे
सुलझ जाएगा सब
कब तक यूं गुम सुम बैठे रहोगे
धीरे -धीरे ही सही लेकिन
ज़िन्दगी जीने का तो प्रयास करो

-


Show more
23 likes · 16 comments
Pulkit Sharma 3 JUL AT 14:01

छाप दिल में ऐसी छोड़ गया
वो तो रहा न अजनबी अब
हया में मुस्करा कर दिल
जाने कब! अजनबी हो गया

-


26 likes · 16 comments · 1 share
Pulkit Sharma 29 JUN AT 19:06

वो सब कुछ संभाल लेते हैं

-


Show more
26 likes · 34 comments

Fetching Pulkit Sharma Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App