Priyanka Muthreja   (Nandinipriya)
2.0k Followers · 291 Following

Joined 13 May 2017


Joined 13 May 2017
Priyanka Muthreja 8 AUG AT 20:28


दिल की दहलीज़ पे आकर
यूँ लौट जाने की जिद्द ना कर
है रात बाक़ी बातों की
है बारात खवाहिशों की
आधी अधूरी कहानी को
मुक़ाम दे जाओ ना
रुक जाओ ना



-


Show more
77 likes · 42 comments · 1 share
Priyanka Muthreja 2 AUG AT 20:08

इतना बता के जाओ
तुम्हें भूल पाएगें कैसे ...हाँ तुम माहिर हो
यह हुनर सिखाके जाओ ....

-


Show more
82 likes · 70 comments
Priyanka Muthreja 28 MAY AT 22:02

यह ही अंजाम -ए इश्क़ है ...तो क्यूँ है ?


-


Show more
106 likes · 96 comments · 3 shares
Priyanka Muthreja 21 MAY AT 15:52


ज़िंदगी चली अपने गाँव
साँसें ले रही हैं विराम
चाहें इक नज़र का एहतराम
ऐसे में तुम आ जाओ ...
. नन्दिनीप्रिया


-


Show more
128 likes · 62 comments · 1 share
Priyanka Muthreja 19 MAY AT 21:04

जीयें कैसे ?

नन्दिनीप्रीया


19.05.2019
8:52 pm

-


Show more
110 likes · 85 comments · 2 shares
Priyanka Muthreja 25 APR AT 18:53



लाख बार कह दे ख़ुद को, मना ले ख़ुद को
जो ज़हन से न उतरा वो भला कैसे दिल से भी छूटा होगा
वो महज़ कहीं पीछे रह गया होगा कुछ देर ही
कभी कभी तुझे दस्तक देकर याद दिलाता होगा
कि चाहे कर लाख कोशिशें ख़ुद को बहलाने की
तू भूल गया है उसे इस भ्रम में भी उसे ही याद करता होगा
हाँ मैं नहीं ना सही मेरा नाम तो याद रह गया होगा ....
नन्दिनीप्रिया

11:06.2010
11:30 pm

-


131 likes · 81 comments
Priyanka Muthreja 17 APR AT 20:27

तू हसीन है यक़ीनन पर झूठ क्यूँ है
हम करें वफ़ा तू जफ़ा कर जाती क्यूँ है

-


Show more
128 likes · 71 comments
Priyanka Muthreja 11 APR AT 22:10





यह मुझ से और मैं इनसे हूँ ....
ना दरमियाँ कोई इनके और मेरे है
दिल से साँसों तक की रवानी है
आधी सच्ची आधी ख़्वाब सीं कहानी है .....नन्दिनीप्रिया


11.04.2019
9:25 pm













-


Show more
128 likes · 94 comments · 1 share
Priyanka Muthreja 8 APR AT 20:41

दिल ही तो था कोई बात ना थी
साँस टूट जाती तो रूह कहाँ जाती
दिल के टुकड़ों का क्या है...
जैसे तैसे मरम्मत हो ही जाती है
गर इक बार साँस छूटी तो कभी लौट नहीं आती ...
नन्दिनीप्रिया

08.04.2019
8:31pm

-


Show more
124 likes · 89 comments
Priyanka Muthreja 7 APR AT 23:43

अब कि गर आना हुआ तो
आकर इस क़दर ठहर जाना
कि साँसें थम जाएँ ... और ... जान भी न निकले।
नन्दिनीप्रिया
07.04.2019
11:30 pm

-


Show more
119 likes · 99 comments · 1 share

Fetching Priyanka Muthreja Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App