Parikshit Choudhary  
1.9k Followers · 4 Following

read more
Joined 14 August 2018


read more
Joined 14 August 2018
Parikshit Choudhary YESTERDAY AT 10:14

जन्मदिन की खुशी तेरे बाद किसके साथ बाँटु
कागज के चाक़ू से केक कैसे काँटु
मेरा नाम लिखे केक की कौन मोमबत्ती बुझाएगा
फिर उसी प्यार से अब में किसको डांटु
अब किसी की 12 बजे वाली call का भी इंतजार ना था
की अपनी बेतुकी बातो से किसका दिमाग चाटु
यू तो कइयो ने दी हैं मुझको बधाई पर
अभी भी सुनाई दे रहा है पिछले साल कहा तेरा हैप्पी बर्थडे टू यू

-


43 likes · 22 comments · 1 share
Parikshit Choudhary 13 SEP AT 19:11

अच्छा सुनो, आज कुछ कहना है मुझे

-


Show more
50 likes · 9 comments
Parikshit Choudhary 6 SEP AT 20:08

तुम गाड़ी की seat belt
मैं traffic का जुर्माना प्रिये,
तुम frank सी लड़की की flirt हो
मैं सीधे साधे लड़के का शर्माना प्रिये

-


80 likes · 22 comments · 2 shares
Parikshit Choudhary 2 SEP AT 20:36

तुम्हे भी किसी बात की मुश्किल है क्या
दूर तेरे इश्क़ का साहिल है क्या
पर एक अरसे तक तो तुम पत्थरदिल थीं
अब सीने में कुछ धड़क रहा है, तेरे पास भी दिल है क्या

-


73 likes · 16 comments
Parikshit Choudhary 1 SEP AT 19:42

तुम CBI की रिमांड हो
मेरी चिदम्बरम सी शान प्रिये,
तुम wonder woman सी supergirl
मैं पुराना वाला शक्तिमान प्रिये

-


78 likes · 37 comments · 2 shares
Parikshit Choudhary 22 AUG AT 19:34

तु चले तो फूल खुद बिछ जाते है तेरी राह में
आसमान के तारे भी सजना चाहते है तेरी बाह में
किसको दिल दोगी, बता दो तो ये क़त्लेआम रुके
वरना ना जाने कितने आशिक़ मर मिटे सिर्फ तेरी चाह में

-


77 likes · 12 comments
Parikshit Choudhary 20 AUG AT 20:37

कातिलो के बीच रहकर ज़िंदगी को जिया है
अमृत समझकर उसका दिया हुआ ज़हर भी पिया है
हमने तो कर दिया था खुद को सारा ही तेरे नाम
फिर भी उसने पूछ ही लिया कि आजतक मेरे लिए क्या किया है

-


64 likes · 9 comments
Parikshit Choudhary 15 AUG AT 10:49

मुबारक ये आज़ादी वाला पल सभी को
ईश्वर करे भारत मे सफ़ल सभी को
ना भुला देना उन वीरो की कुर्बानियों को तुम
याद रखना है वो बलिदानी गुज़रा कल सभी को

-


69 likes · 3 comments · 1 share
Parikshit Choudhary 14 AUG AT 19:23

तुम आसमान की बारिश हो
मैं प्यासा सा रेत प्रिये,
तुम कश्मीर के नए प्लॉट सी
मैं गांव का बंजर खेत प्रिये

-


72 likes · 14 comments
Parikshit Choudhary 13 AUG AT 19:22

मेंरे दिल के आसमान में, बादल बन क्यों छा जाती हो
मैने तो आवाज़ नही दी, फिर तुम क्यों वापस आ जाती हो
तुझसे बिछड़कर मैने तो सब से ही रिश्ता तोड़ लिया है
फिर तुम किस मुँह से आज भी मुझको अपना बताती हो
चलो मान लिया कि फिर से तुमको प्यार हो गया
प्यार में तो नींदे उड़ती है, फिर तुम कैसे चैन से सो जाती हो

-


65 likes · 16 comments

Fetching Parikshit Choudhary Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App