Parikshit Choudhary  
2.3k Followers · 1 Following

read more
Joined 14 August 2018


read more
Joined 14 August 2018
Parikshit Choudhary 31 MAY AT 19:23

तुम चीन की घुसपैठी सेना हो
मैं भारत की ताकतवर फौज प्रिये,
कब्जे का जब जब भी सोचोगी
तब तब पेलेंगे तुमको रोज प्रिये

-


35 likes · 5 comments
Parikshit Choudhary 30 MAY AT 19:47

हिलोरे मार रहा फिर से मेरे प्रेम का समंदर है
खबर नही अब मुझे की कहाँ धरती कहाँ अम्बर है
वो जो कहते थे वो भूल गई है मुझे, सब झूठे थे
उसके contact में आज भी दिल के साथ मेरा नम्बर है

-


38 likes · 4 comments
Parikshit Choudhary 29 MAY AT 20:15

मत पूछो की इस lockdown में क्या हाल हमारा हैं
तुम तो मिले नही, बस चाय का ही सहारा है

-


41 likes · 2 comments · 1 share
Parikshit Choudhary 20 MAY AT 19:49

मेरी आदत जो लगी थी उसको, वो अब छुट गई थी
कहती थी तुम्हारे बिना जी ना पाऊँगी, शायद बोल झूठ गई थी
वो कल वापस आई थी, भूलकर पिछली सब बातों को
और फिर हुआ कुछ यूं कि, मेरी नींद टूट गई थी

-


48 likes · 8 comments · 2 shares
Parikshit Choudhary 18 MAY AT 18:56

ना सोना चाँदी, ना हीरे मोती
ना महँगा सा कोई रत्न चाहिए,
पापा है जब तक पास मेरे
और क्या मुझको धन चाहिए
मेरी खुशियो की खातिर
अपनी जिंदगी भूल गये,
कोई दुख ना हमको होने पाए
इस कोशिश में तुम मशगूल रहे,
बचपन मे सोचा था मैंने भी
की डाक्टर, इंजीनियर या गायक बनू,
जिस पर तुमको गर्व हो पापा
अब सोचू की बस इतना सा लायक बनू
जब तक आप साथ हो मेरे
हर मुश्किल से मैं लड़ जाऊँगा,
रखे रखना मेरे सर पर हाथ
मैं सबसे आगे बढ़ जाऊँगा

-


45 likes · 16 comments · 1 share
Parikshit Choudhary 14 MAY AT 19:57

तुम cute Mii-chan cat हो
मैं डोरेमॉन सा Robot प्रिये
तुम dedicated testimonial सी
मैं स्कूल डायरी का complaint note प्रिये

-


45 likes · 12 comments
Parikshit Choudhary 5 MAY AT 19:04

सामने आ जाओ तुम, तब मैं घबराऊँ
अब कैसे तुमको दिल की बात बताऊ
मैसेज में पूछ लो मुझसे की क्या पसन्द है तुमको
और फिर मैं तुम्हारी DP ही तुमको दिखलाऊँ

-


44 likes · 4 comments · 1 share
Parikshit Choudhary 21 APR AT 19:40

बिना तेरे ही पूरी ज़िंदगी गुजार दूँ क्या
या एक आखिरी बार तुझे फिर से पुकार लूँ क्या
तेरा तो दुपट्टा भी इसमें फसता नही
अरे सुन, तो अब ये हाथ की घड़ी उतार दूँ क्या

-


85 likes · 27 comments
Parikshit Choudhary 19 APR AT 19:31

तुम चमकते चाँद सी,
मै टिमटिमाता तारा प्रिये,
तुम अपने आप मे अनोखी हो,
मै भी दुनिया से न्यारा प्रिये

-


110 likes · 13 comments · 1 share
Parikshit Choudhary 17 APR AT 18:59

कभी कही तो उसे भी मेरी झलक दिखती होगी
जैसे मैं लिखता हूँ उसके बारे, वो भी तो लिखती होगी
उसका नाम हथेली पर लिख लिखकर चूमते है हम
क्या वो भी उंगली हवा में घुमाकर नाम मेरा लिखती होगी

-


105 likes · 20 comments

Fetching Parikshit Choudhary Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App