Naincy Goyal   (Naincy)
3.4k Followers · 559 Following

read more
Joined 25 July 2017


read more
Joined 25 July 2017
Naincy Goyal 5 HOURS AGO


क्यूँ हिस्सों में मोहब्बत जताते हो
मेरे हो तो क्यूँ कहने से घबराते हो?

-


113 likes · 9 comments
Naincy Goyal 4 JAN AT 20:20


उलझनें कम नहीं ज़िंदगी में मगर,
ज़ुल्फों को सुलझाना भी ज़रूरी है।
गम में डूबी है शाम मगर,
होंठों का मुस्कराना भी ज़रूरी है।।
वक्त का तो मिज़ाज ही है बदलना,
वक्त पर सम्भल जाना भी ज़रूरी है।
बहुत दिल लगा लिया गैरों से,
अब खुद से दिल लगाना भी ज़रूरी है।।

-


Show more
91 likes · 7 comments · 5 shares
Naincy Goyal 4 JAN AT 13:30

रुहानी है इश्क़ मेरा
जिस्मानी ये मोहब्बत तो नहीं,
एक तरफा है तो एक तरफा ही सही
ख्वाब है ये कोई हकीकत तो नहीं।
ताबीर हो जाए ख्वाब मेरी जान
हर वक्त यही इंतज़ार रहता है,
गम में रहती हूँ मैं अगर
तू क्यूँ इतना परेशान रहता है।।
सिर्फ मेरा ही ये हाल है
या तू भी बेहाल रहता है,
क्या तुझे भी मेरी जान
इन दूरियों का मलाल रहता है।

-


Show more
85 likes · 11 comments
Naincy Goyal 20 DEC 2019 AT 21:00

तू कोई वहम तो नहीं फिर क्यूँ इक ख्वाब सा लगता है,
क्यूँ हर मुलाक़ात में पहली मुलाक़ात सा लगता है।

-


111 likes · 18 comments
Naincy Goyal 19 AUG 2019 AT 10:15

सारी रात गुज़ार दी
अश्कों को समेटने में।
सुबह देखा तो "सड़क अब तक गीली थी"

-


118 likes · 4 comments
Naincy Goyal 18 AUG 2019 AT 12:06

इक अजीब सा रिवाज़ है इश्क़ का
खुद दर्द देकर कहते है,
"हम तुम्हें दर्द में नहीं देख सकते"

-


101 likes · 7 comments · 2 shares
Naincy Goyal 10 AUG 2019 AT 18:14

तुम्हें फर्क नहीं पड़ता,
इस बात से मुझे फर्क पड़ता है।

-


127 likes · 11 comments · 4 shares
Naincy Goyal 4 AUG 2019 AT 12:05

"आखिरी मुलाकात"

-


Show more
96 likes · 13 comments
Naincy Goyal 3 AUG 2019 AT 19:36

खूबसूरती की असली परख नजरों से है,
ये आईना महज़ अक्स दिखाता है।

-


114 likes · 17 comments · 2 shares
Naincy Goyal 3 AUG 2019 AT 15:08

अरसों बाद गलियों में फिर नूर नज़र आया है
लगता है मेरे शहर में आज चाँद उतर आया है।

-


Show more
119 likes · 11 comments · 2 shares

Fetching Naincy Goyal Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App