Jigissha Raj   (Jigisha Raj)
39 Followers · 9 Following

Joined 23 June 2018


Joined 23 June 2018
Jigissha Raj 28 MAR AT 22:36

कि साथ आगे बढ़ते रहे,
पर तुम्हारी जिद ने आज सब बदल दिया।
क्या तुम नहीं मानते कि तुम्हारी जिद हमें हंमेशा परेशानी में ला छोड़ती है?
आखिर कब तक तुम बच्चों सी जिद करोगे?
बताओ....

-


Show more
3 likes
Jigissha Raj 28 MAR AT 22:25

એકલતા એ તમારી લાગણીઓનું નકારાત્મક પાસું છે, જે તમને એકલાં હોવાનો અનુભવ કરાવે છે. જ્યારે એ જ લાગણીઓમાં તમે સકારાત્મક રીતે વહેતાં હશો તો એવું એકલાં રહેવું એ તમારું પોતાનું એકાંત હશે જે તમને વ્હાલું લાગશે. એકલાં રહેવું એ અભિશાપ છે એવું માનતા હોવ, તો એ માત્ર ભ્રમણા છે. એકલતા એ તમને ચિંતન કરવાનો સમય આપે છે અને એકલતાને અનુભવીને જ તમે એમાંથી બહાર નીકળવાનો પ્રયત્ન કરી શકો છો.

-


3 shares
Jigissha Raj 26 MAR AT 20:14

हर फोटो गैलरी सेल्फी से भरी-भरी सी नहीं होती,
हर बार क्यूं वो पिक्चर परफेक्ट सी नहीं होती?
कहानी कुछ अनसुनी अनदेखी भी तो नहीं होती,
फिर सवालों में वो पिक्चर परफेक्ट क्यूं नहीं होती?

-जिगीषा राज

-


3 likes · 1 share
Jigissha Raj 26 MAR AT 19:54

'पिक्चर परफेक्ट'

हर फोटो गैलरी भरी-भरी सी नहीं होती,
सारी क्लिक्स पिक्चर परफेक्ट नहीं होती!

कहीं कोशिशें की जाती है,
कोई झूठी सी मुस्कान लिए,
कहीं आंखों को बहलाया जाता है,
कहीं सांसों को काबू करने के चक्कर में,
फिर भी आह सी निकल ही जाती है।

कभी फोटो अधूरी सी लगती है,
क्योंकि वो सवालिया आंखें
जवाब में फिर वोही
परफेक्ट पिक्चर ढूंढ़ती हैं,
कभी तस्वीरें भी बोलती है क्या?

सारी कोशिशें अधूरी सी लगती हैं,
जब पिक्चर परफेक्ट नहीं लगती,
कभी कोई पल अगर चाहूं कैद करना,
फिर पिक्चर परफेक्ट के सवालों के
जवाब कहां से लाऊं?

बहुत से पल कैद कर रखें है मैंने,
गैलरी के हिडन फोल्डर में,
पासवर्ड भी लगाके साथ,
ख़ुश हूं मैं सच्ची मुस्कुराहट लिए,
फिर भी वो पिक्चर परफेक्ट क्यूं नहीं होती?

हर फोटो गैलरी भरी-भरी सी नहीं होती,
क्यूं वो पिक्चर परफेक्ट सी नहीं होती?

*जिगीषा राज*



-


Jigissha Raj 26 MAR AT 18:29

रूह को अगर जकडोगे, मुमकिन है बंदिशों में हमें पा भी सकोगे
ये कोशिशें सच हो भी जाए, ख्वाब में भी हमें पा ना सकोगे।

जिगीषा राज

-


1 likes
Jigissha Raj 26 MAR AT 17:12

પ્રેમ અકબંધ રહે એ માટે સૌથી પહેલી શરત સંબંધની ગરિમા જાળવવી એ છે. સંબંધના નામે શરતો અને નિયમો હોય ત્યાં સંબંધ નહીં માત્ર બંધન હોય છે. પ્રેમ એ વિશ્વાસનો આધારસ્તંભ છે. જો વિશ્વાસ તૂટશે તો સંબંધ પણ તૂટશે જ.

-


2 likes · 5 shares
Jigissha Raj 11 MAR AT 7:42

कोशिश भी कर उमीद भी रख रास्ता भी चुन,
फिर इस के ब'अद थोड़ा मुक़द्दर तलाश कर

निदा फ़ाज़ली

-


16 likes · 1 comments · 4 shares
Jigissha Raj 8 MAR AT 7:53


એ દરેક સ્ત્રી અને એ દરેક સ્ત્રીનું સન્માન કરતાં મારા તમામ મિત્રોને આંતર રાષ્ટ્રીય મહિલા દિવસ નિમિત્તે શુભેચ્છાઓ.

-


2 likes · 4 shares
Jigissha Raj 2 MAR AT 18:16

अपनी तलाश अपनी नज़र अपना तजरबा
रस्ता हो चाहे साफ़ भटक जाना चाहिए !
निदा फ़ाज़ली

-


5 likes · 3 shares
Jigissha Raj 1 MAR AT 7:43

सफ़र में धूप तो होगी जो चल सको तो चलो
सभी हैं भीड़ में तुम भी निकल सको तो चलो

किसी के वास्ते राहें कहाँ बदलती हैं
तुम अपने आप को ख़ुद ही बदल सको तो चलो

निदा फ़ाज़ली

-


6 likes · 4 shares

Fetching Jigissha Raj Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App