Hiral   (🌷Hir@L✒️)
8.4k Followers · 9 Following

Joined 19 July 2018


Joined 19 July 2018
Hiral 22 JAN AT 19:03

नैन मोरे तरस जावे
देखनन को पी की छवि
आ साजन मोरे सपनों में
तोहे जी भरके निहारूँ ...))

दिन रैन मन बेचैन
यह संसार मोरे न भाये
बावरी सी फिरूँ तोहे याद में
हरख मन मचलता जावे ...))

पिया ये मत जानियो
तोहे बिन मोरे सुख चैन
बिछड़त तोहे से रोऊँ दिन रैन
तोहे बिन न सुख न चैन ...))

लिखनन दूँ भावनाओं से
सच्ची प्रीत तोहे नसीब में
तोहे बिन मन को कोई न भाये
मैं तो लिखूँ सुनहरे अक्षरों से ...))

-


Show more
131 likes · 31 comments
Hiral 18 JAN AT 12:00

आपकी हँसी ही हैं मेरे ख़ुश रहने की वजह
अगर आप बिख़र गये तो हम कैसे जी पायेगें
ख़ुद को संभाल के रखना फूलों की तरह क्योंकि
आप अकेले नहीं मेरा दिल भी आपके पास है

-


Show more
154 likes · 79 comments · 2 shares
Hiral 17 JAN AT 18:08

हर भय, दुख से मुक्त होकर
अपनी आत्मा को ख़ुश रखों
क्योंकि यह जीवन और पल
एक बार निकल गया...
तो इसे वापस नहीं जी सकोगे

-


Show more
162 likes · 75 comments · 1 share
Hiral 12 JAN AT 16:34

ओ मन मेरे...तू क्या चाहें
मन बावरा सा...
कभी ख़ुद से ख़ुश होवे
कभी ख़ुद से ही लड़ना चाहें

ओ मन मेरे...तू क्या चाहें
तू बहका बहका सा...
मैं गंगा सी धारा बहती जाऊँ
रोक न सकें कोई मैं चलती जाऊँ

ओ मन मेरे...तू क्या चाहें
बनकर दिया सा...
मैं मुझमें ही विश्वास जगाऊँ
रोशन सा जीवन मेरा मैं कर जाऊँ

ओ मन मेरे...तू क्या चाहें
बन हिम्मत सा...
सपना न रह जावे तेरा अधूरा सा
दिल चाहें कर दिखा दे कुछ बड़ा सा

-


Show more
204 likes · 85 comments · 1 share
Hiral 7 JAN AT 17:09

कोई हम पर विश्वास करता हैं तो इसका मतलब है
हम उनके नजरों में गुणवान संस्कारित और
सिद्धार्थवान है!

और हम विश्वास तोड़ते हैं तो हम उनके नजरों से
गिर जाते हैं हमारे व्यकित्व और चरित्र पर सवाल
खड़ा हो जाता है!

अर्थात:- विश्वास तोड़ना नही बनाना सिखों
कोई हम पर आँख बंद करके विश्वास करें
यह हमारा सौभाग्य है।

-


Show more
190 likes · 70 comments · 4 shares
Hiral 6 JAN AT 19:40

ख़ुद से ज़्यादा तुम्हें समझा है
मेरी हर श्वास में तुम्हारा नाम है
तुमसे इस कदर प्रेम हैं मेरे महादेव
कि तुम्हें पा नही सकतें...
फिर भी तुम्हारी भक्ति करते है!

-


Show more
195 likes · 85 comments · 1 share
Hiral 6 JAN AT 16:27

उनकी ख़ामोशी चुपके से कहती है
तूने इस बार समझने में ग़लती की है
तुम क्या जानो मेरे दिल के एहसास
तुम्हारे लिए मैंने कितने आँसू बहाए
एक तूने समझा था विश्वास तुझे था
प्यार मुझे भी था बेक़रार मैं भी था
हालात और क़िस्मत से मजबूर हूँ
रिश्तों में और समाज में उलझा हूँ
बेवफ़ा कहकर गुनहगार बना दिया
अब तू ही बता मेरा क्या क़ुसूर था

-


Show more
169 likes · 53 comments · 2 shares
Hiral 3 JAN AT 12:26

हे मेरे महादेव... इतनी तो शक्ति हो
मेरी भक्ति में! कि मेरा विश्वास
आप पर से कभी कम न हो!

-


Show more
188 likes · 62 comments · 3 shares
Hiral 29 DEC 2019 AT 14:51

तेरा मेरा रिश्ता अद्धभुत हैं माँ
तुमसे कुछ कहती नहीं फिर भी...
दिल के हाल तू जान लेती हैं माँ
मैं कब ख़ुश, और कब दुखी...
यह मेरा चेहरा देखकर, समझ जाती हैं माँ
माथे पर हाथ रख, आँचल में छुपा लेती हैं माँ
गोदी में सर रखु, तो सारे ग़म भूला देती हैं माँ
जो सुकून और सुरक्षा तुम्हारे प्यार में हैं माँ
ऐसा प्यार मैंने कही नही देखा माँ

-


Show more
180 likes · 91 comments
Hiral 26 DEC 2019 AT 16:35

इतने डरपोक नहीं कि हालातों से डर जाएँ
इतने कमज़ोर नहीं कि शीशे की तरह टूट जाएँ
तुम चाहे जितनी परिक्षा लेलो ऐ मेरी ज़िंदगी
हम तो ऐसे हैं कि हर हालात में जीना सीख जाएँ

-


Show more
211 likes · 104 comments

Fetching Hiral Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App