Dhruvi Kriplani   (Dil ke Alfaaz)
10.4k Followers · 18 Following

read more
Joined 22 May 2020


read more
Joined 22 May 2020
26 SEP 2021 AT 16:06

मुमक़िन ही नही तेरे बग़ैर अब जिन्दग़ी मेरी,
फ़क़त तेरे एहसासों में भी नशा है कमाल का💔

-


25 SEP 2021 AT 18:13


टूट गए आहिस्ता आहिस्ता हम
और टूटने की आवाज भी नहीं आई!
इस तरह से मेरे कुछ मज़बूत रिश्ते
बड़ी खामोशी से टूट गए💔

-


21 SEP 2021 AT 19:09

सुलह हो जाती है
लाख़ रूसवाई के बाद़ भी तुझसे
सिवाय तेरे किसी से
उलझती भी तो नहीं मैं💔

-


20 SEP 2021 AT 19:59

पता है की जमाने
की नज़र लगती है
वरना मैं तेरा नाम
अपने से मिला दू💔

-


16 SEP 2021 AT 21:20


कैसे जी लेते है लोग..
उनके बिना .....
जिनके बिना दिन का हर लम्हा
उन्हें खाली लगता था कभी💔 ..

-


14 SEP 2021 AT 18:15

किसी और की तस्वीर आ बसी है
उसकी आँख़ो में,
वो मुझसे मिल तो रहा है,
मग़र नज़रे बचा बचा कर💔....

-


7 SEP 2021 AT 21:48

कुछ उलझने बे हिसाब,
कुछ तुम भी बहुत ज्यादा
कभी तुझसे दूरियाँ बेहद,
तो कभी तू करीब बहुत ज्यादा....💔

-


6 SEP 2021 AT 21:35

उसकी तारीफ़ लिखना
उतना ही मुश्किल है जितना
ये समझना की गुलाब कांटो के
संग ही खिलता क्यों है💔

-


5 SEP 2021 AT 18:30

अधूरेपन
के सागर में ही
समाहित होता हैं..
शिद्दत से किया
इन्तजार भी.💔

-


3 SEP 2021 AT 20:41

किसी एक का
होकर रहना
मोहब्बत की
असल खूबसूरती है 💔

-


Fetching Dhruvi Kriplani Quotes