Amit Mishra   (✍️Amit ('मौन'))
6.6k Followers · 165 Following

read more
Joined 5 November 2017


read more
Joined 5 November 2017
Amit Mishra 8 NOV AT 9:27

एक लंबी रात
एक बंद कमरा
एक टूटा दिल
एक तन्हा इंसान
एक थका हारा मन
एक जोड़ी उदास आँखें
वो समय जब इंसान स्वार्थी होकर
सिर्फ़ और सिर्फ़ अपने बारे में सोचता है

जीवन के कई गूढ़ रहस्यों से पर्दा इसी परिस्थिति में उठाया गया

-


Show more
213 likes · 11 comments · 4 shares
Amit Mishra 5 NOV AT 22:27

|| असफल प्रेमी ||

-


Show more
288 likes · 30 comments · 9 shares
Amit Mishra 3 NOV AT 21:47

उम्मीदों, अरमानों, तमन्नाओं के नाम है ज़िंदगी
मशीन है आदमी और एक काम है ज़िंदगी
हँसना, रोना बस फल है अपने ही कर्मों का
ठीकरा क़िस्मत पे फोड़ कर बदनाम है ज़िंदगी

-


Show more
216 likes · 24 comments · 6 shares
Amit Mishra 21 OCT AT 21:04

' दूरियाँ '

(अनुशीर्षक में पढ़ें)

-


Show more
537 likes · 33 comments · 12 shares
Amit Mishra 18 OCT AT 21:41

रण में कूद पड़े नारायण

(रचना अनुशीर्षक में)

-


Show more
572 likes · 53 comments · 19 shares
Amit Mishra 17 OCT AT 20:26

◆ अधूरी कविता ◆

-


Show more
174 likes · 24 comments · 1 share
Amit Mishra 13 OCT AT 16:41

उस दिन के बाद से मैं आज तक ये सोचता हूँ कि क्या किसी के बारे में अच्छा सोचना ख़ुद के लिए बुरा होता है?

(In Caption)

-


Show more
197 likes · 28 comments · 2 shares
Amit Mishra 9 OCT AT 9:34

|| प्रियतम ||

-


Show more
625 likes · 46 comments · 20 shares
Amit Mishra 3 OCT AT 11:19

था कौन मेरा? क्या अपना था?
क्यों अपनी आदत डाल गया

(In caption)

-


Show more
1087 likes · 64 comments · 37 shares
Amit Mishra 28 SEP AT 21:18

◆अगली कविता◆

-


Show more
525 likes · 21 comments · 4 shares

Fetching Amit Mishra Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App