Abhishekk Nagar   (अभिषेक नागर)
1.1k Followers · 194 Following

read more
Joined 23 June 2017


read more
Joined 23 June 2017
Abhishekk Nagar YESTERDAY AT 12:48

....

-


Show more
25 likes · 5 comments
Abhishekk Nagar 18 APR AT 19:52

सखी! मैं तुमसे क्या कहती..

( पूरी कविता अनुशीर्षक में.. )

-


Show more
39 likes · 9 comments
Abhishekk Nagar 17 APR AT 23:25

एक दिन कोई और भी उठायेगा,
तुम्हारे साथ पतझड़ की पत्तियाँ..

एक दिन कोई गिनायेगा तुम्हें,
कन्धे तक आते बालों की ख़ूबियाँ..

एक दिन तुम्हारी बातें किसी के,
लौटते रास्तों का गीत होगी...

एक दिन तुम्हारी आवाज़ किसी के लिए,
दुनिया का सबसे ख़ूबसूरत संगीत होगी....

-


52 likes · 15 comments
Abhishekk Nagar 17 APR AT 20:37

दोनों महाकाल दर्शन के बाद , श्री गँगा कैफ़े आये थे!
दोनों की पसंद कितनी मिलती थी..

“ अच्छा एक बात बताओ न! मोहब्बत अधूरी हो तो ज़्यादा मुकम्मल होती है न ? “
“ ऐसा क्यूँ लगता है तुम्हें ? “
“ तुम्हीं देखो न! अमिताभ रेखा , साहिर अमृता , राधा कृष्ण... पूरा इतिहास भरा पड़ा है..!!! “

वो उसकी आँखों में देख कर बोली,

“ तुम बेवजह कोई बात नहीं करते... आज अचानक ये बात क्यूँ... किसी का फिर रिश्ता आया आज ? “

“ हाँ........ “

चाय ठण्डी हो रही थी...
दोनो बहुत देर तक चुप रहे...!!!

-


Show more
53 likes · 10 comments · 2 shares
Abhishekk Nagar 16 APR AT 23:44

एक आकांक्षा...

तुम बनो पहली नदी
जो मिले मेरे हृदय सागर में

पहली बारिश की बूँद
जो छूए तप्त भावनाओं को मेरी

पहला ऐसा पवित्र रिश्ता
एक ही नाम से हम एक दूजे को कह लें

तुम भेजो मुझे अपनी कुँवारी कविताएँ
सारी दुनिया के पढ़ने से पहले.....

-


Show more
47 likes · 4 comments
Abhishekk Nagar 16 APR AT 15:51

ये दुनिया ऐसी ही है ,
राह में काँटें बोती है..
रोज़ कोई मिथिला की बेटी ,
अपने नैन भिगोती है..
वही लोग है वही सोच है,
आज भी उनके अंतस में..
सीता की पीड़ा से छलनी ,
आज भी कोसी रोती है...

-


Show more
56 likes · 14 comments · 2 shares
Abhishekk Nagar 16 APR AT 6:38

तभी समझ जाना चाहिए था,
मिलन रहेगा आधा...
जिस दिन बोली तुम कान्हा हो,
मैं हूँ तुम्हारी राधा...!!!

-


64 likes · 17 comments · 2 shares
Abhishekk Nagar 15 APR AT 20:56

“ बोलो! क्या बात करनी है? “

“ इतनी नाराज़ हो , birthday भी विश नहीं किया? “

“ मुझे याद नहीं रहा...!!! “

दोनो ख़ामोश ही रहे , फिर वो ही बोली,

“ अच्छा छोड़ो! ये बताओ कैसा रहा birthday? “

“ अच्छा था! 5 को दीपक भी आ गया था तो सबने साथ ही enjoy किया... इतने दिनों में पहली बार birthday पर कोई साथ था...!!! “

“ 5 को ? मगर तुम्हारा birthday तो 4 august को था न..... “

दोनों फिर बहुत देर तक ख़ामोश रहे..!!!

-


Show more
55 likes · 16 comments · 2 shares
Abhishekk Nagar 15 APR AT 10:39

मुझ पर कविता मत लिखना...!!!

( अनुशीर्षक में पढ़ें... )

-


Show more
89 likes · 30 comments · 5 shares
Abhishekk Nagar 14 APR AT 18:07

....

-


79 likes · 36 comments · 1 share

Fetching Abhishekk Nagar Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App