Abhishekk Nagar   (अभिषेक नागर)
1.3k Followers · 201 Following

read more
Joined 23 June 2017


read more
Joined 23 June 2017
Abhishekk Nagar YESTERDAY AT 14:09

एक तरफ़ है प्यार उसका
एक तरफ़ संवेदना है

मेघ तो बरसा करेंगें निरंतर
एक पल तो पर धरा को तपना है
ज़िंदगी के धूप वाले रास्ते पर
प्रेम की छाया तले ही चलना है
एक को निकालने को
दूजा काँटा भेदना है

एक तरफ़ है प्यार उसका
एक तरफ़ संवेदना है..

-


45 likes · 4 comments
Abhishekk Nagar YESTERDAY AT 7:52

महक उठेगी प्यार से मिट्टी जुलाई में
आयेगी पहले प्यार की चिट्ठी जुलाई में

-


68 likes · 17 comments · 1 share
Abhishekk Nagar 20 JUN AT 23:18

बरसों से सोये सरोवर में
अचानक जल हिला था

एक दिन तुमसे मिला था...!!!

( पूरा गीत अनुशीर्षक में... )

-


Show more
51 likes · 8 comments · 3 shares
Abhishekk Nagar 20 JUN AT 18:52

लौट कर आने वाली प्रेमिकाएँ
कभी अपने प्रेमी को नहीं पहचान सकी...

सब कुछ भूल जाने की क़समें खाने वाले,
दो जन्मदिन याद रखते हैं साल में...

सच्चा प्रेम करने वाले इन्सान से
देह नहीं आत्मा सँवरती है

एक कवि की ठुकराई हुई लड़की
तमाम उम्र कविताओं से नफ़रत करती है

-


Show more
61 likes · 7 comments
Abhishekk Nagar 19 JUN AT 21:01

और तुम्हें
एक बार को देखते ही
मैंने देख लिया था एक ख़्वाब
कि शादी के इक्कीसवें दिन
तुम फ़ोन लगा कर कहती हो
कि आज कुछ बाहर का खाएँगें
और मैं भी अड़ जाऊँ इस ज़िद पर
कि आज कहीं जाने का मन नहीं है
मगर जब ऑफ़िस से लौटते वक़्त
मैं लाऊँ पानीपुरी तुम्हारे लिए
तुमने बना रखी है
मेरी पसन्दीदा भिण्डी की सब्ज़ी..
और मैं मुस्कुराते हुए बस ये पूछूँ
“ आज क्या किया दिन भर ? “
तुम इतना सा कहो,
“ तुम्हारा इन्तज़ार...!!! “

-


Show more
66 likes · 9 comments · 2 shares
Abhishekk Nagar 19 JUN AT 18:03

दोबारा प्रेम में पड़ने वाली लड़कियाँ
पढ़ने लगती है विरह के गीत

सच्चा प्रेम करने वाले लड़के
भूल जाते हैं कविताएँ लिखना

किसी की सतायी हुई लड़कियाँ
उन्हें चाहने वाले लड़कों को
समानुपाती कष्ट देने लगती हैं...

घर से भागी हुई लड़कियाँ
अपने पति की हर बात में
हाँ में हाँ मिलाती है

बिछड़े प्रेमी से अपनी प्रेमिका को
मिलाने वाले लड़कों के सामने
आगे चलकर ज़िंदगी हार जाती है!

-


Show more
58 likes · 9 comments · 1 share
Abhishekk Nagar 15 JUN AT 21:29

अक्सर हम अच्छी कविता और अच्छे कवि के बीच के अन्तर को समझ नहीं पाते... हमको कोई रचना अच्छी लगती है तो हम कवि को और जानने का प्रयत्न करने लगते हैं.. हमें पसन्द कविता को करना था... हमें शब्दों की भावनाएँ समझनी थी मगर हम कवि को समझने में लग जाते हैं... हम जानना चाहते हैं कि कविता किस के लिए लिखी गई.. जबकि ऐसा नहीं होना चाहिये.. एक अच्छी कविता लेखक के पास से जब निकल जाती है तो वह लेखक से मुक्त हो जाती है.. कई बार ये ज़रूरी भी नहीं होता कि जो लिखा गया है वो सच हो.. एक सफल कवि को रचनात्मक होने का अधिकार है और अगर आपको ये लगता है कि लिखी गई विषय वस्तु हक़ीक़त है तो लिखने वाले के लिए इस से ख़ुशी की बात कुछ नहीं!!

-


83 likes · 17 comments · 2 shares
Abhishekk Nagar 11 JUN AT 8:14

इश्क़ के हर सितम पर आह कौन करता है
दुनिया की शर्तों पर निबाह कौन करता है

जितनी आसानी से हमने शिकस्त पाई है
सोच कर देखना ऐसे तबाह कौन करता है

तुम्हारी क़ैद में रहने वालों से रश्क है मुझे
ये कौन सा गुनाह है ये गुनाह कौन करता है

वो सुनाने वाले हैं महफ़िल में अपनी ग़ज़ल
और मैं देख रहा हूँ कि वाह कौन करता है

-


414 likes · 25 comments · 8 shares
Abhishekk Nagar 8 JUN AT 16:54

Abhishekk Nagar 6 JUN AT 8:54

जाने कौन से आँगन को आबाद करेगी
वो जिस से भी बँधेगी उसे आज़ाद करेगी

मैं उसे इतनी सारी कविताएँ सुना दूँगा कि
वो जहाँ भी कुछ पढ़ेगी मुझे याद करेगी

मुझसे माँगते हो अगर मशवरा तो सुन लो
मुहब्बत बुरी चीज़ है तुम्हें बर्बाद करेगी

अजीब लड़की है मुझसे मुहब्बत नहीं करती
मगर कहती है शादी मेरी शादी के बाद करेगी

-


545 likes · 58 comments · 26 shares

Fetching Abhishekk Nagar Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App