रोहन कौशिक  
568 Followers · 13 Following

मैं पल दो पल का शाइर हूँ...!
- साहिर ❤
Joined 9 September 2017


मैं पल दो पल का शाइर हूँ...!
- साहिर ❤
Joined 9 September 2017

यूँ सुब्हो-शाम इसे सीने में जगह देकर,
हमीं ने दर्द की आदत बिगाड़ रक्खी है।
- रोहन कौशिक

-


25 likes · 6 comments

हम उजाड़े हुए, इक सुनामी के हैं,
इक लहर की रवानी, न समझा हमें।
- रोहन कौशिक

-


41 likes · 12 comments

जब-जब सीन समझ में आए,
तब-तब फिल्म बदल दी उसने।
- रोहन कौशिक

-


35 likes · 4 comments

हर दिन होते झगड़ों और' रिश्तों की खींचा-तानी से।
सारी चमक उड़ी जाती है बच्चे की पेशानी से।
- रोहन कौशिक

-


37 likes · 10 comments

मन की हर अभिलाषा तजकर,
जीकर दुनिया की शर्तों पर,
हम तो जीवित बचे हुए हैं, लेकिन जीवन हार गया है।

- रोहन कौशिक






( पूर्ण गीत अनुशीर्षक में 👇)

-


Show more
46 likes · 15 comments · 2 shares

किया एहसान और' फोटो खिचा ली,
यही आलम है अब दरिया-दिली का।
- रोहन कौशिक

-


42 likes · 6 comments

रोज़ मातम मनाने से क्या लाभ है,
दर्द दिल का बढ़ाने से क्या लाभ है,
तुमको आँखें मिलीं हैं तो सपने गढ़ो...
व्यर्थ आँसू बहाने से क्या लाभ है?
- रोहन कौशिक

-


56 likes · 6 comments

रह गया फिर मील का पत्थर अकेला,
रहबरी का मिल गया इन'आम देखो।
- रोहन कौशिक

-


Show more
40 likes · 8 comments

जहाँ आसान है सब कुछ, वहाँ भी,
बसर मुश्किल हुई तो क्या करोगे?
इधर मुश्किल हुई तो रुख़ उधर का,
उधर मुश्किल हुई तो क्या करोगे?
- रोहन कौशिक

-


48 likes · 6 comments

इससे झगड़ा, उससे यारी होती है।
एक मुसीबत कितनी भारी होती है!

जितने पहलू रोज़ बदलती है किस्मत,
उतनी कब? किसकी? तैयारी होती है।

छोटी-छोटी बातों पर भर आता है,
कितनी छोटी दिल की क्यारी होती है!

हम बोलें तो झूठ गुनह हो जाता है,
तुम बोलो तो दुनियादारी होती है!

लोग भटक जाते हैं ऐसी बातों से,
तारीफ़ों से भी दुश्वारी होती है।

शौक़ अगरचे, छोड़ा भी जा सकता है,
ज़िम्मेदारी, ज़िम्मेदारी होती है।

- रोहन कौशिक

-


Show more
33 likes · 14 comments · 1 share

Fetching रोहन कौशिक Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App