Yeda kido   (Yeda kido)
2.0k Followers · 107 Following

read more
Joined 8 January 2018


read more
Joined 8 January 2018
20 DEC 2020 AT 9:36


मैं हर उस जगह बैठा, जहां मुझको बैठाया गया
मैं अपने मन का मालिक हूं, बैठाने के बाद बताया गया

सरहदें छोटी हैं बहुत अगर इरादा हो उस पार का
बनाकर सरहदें फिर ये सबको समझाया गया

-


24 NOV 2020 AT 17:17

मेरी बिगड़ी आदतों का लिहाज़ रखा है जिंदगी ने
हर मौसम में जलाने को चराग़ रखा है जिंदगी ने

मेरी तबियत तो बहुत पहले बिगड़ गई होती
पर दुरस्त रखने को बहुत यार रखा है जिंदगी ने

-


19 NOV 2020 AT 12:46

अजब हिसाब है कि

मर्द तब तक भला नहीं होता

मानती नहीं जब तक

कोई औरत भला उसको।

-


24 OCT 2020 AT 19:04

मुझसे गुजरकर भी ,मेरे तुफानों का उसे अंदाजा नहीं

वो आएगी किसी रोज़, बस इसलिए घर में दरवाजा नहीं

-


18 OCT 2020 AT 17:07

ये शहर भला, इतना तन्हा क्यों लगता हैं

इसने तो बरगदों को काट कर लोग इकट्ठे किए थे

-


20 SEP 2020 AT 19:49

बहुत ज्यादा तो नहीं, पर सब उसी को बताता था
मेरे हिस्से का ख्वाब भी, उसी की गली को जाता था

अब ग़म भी आंखों से छलकता है, तो वो मुड़ता नहीं
जो कभी मेरी सांसों की हलचल से ठहर जाता था

-


15 SEP 2020 AT 9:02

बहुत दूर निकल आने पर ये यकीं आया

की जिंदगी बस चलते रहने का नाम नहीं

-


7 SEP 2020 AT 19:04

जी भर के निहारते थे हम एक दूजे को
तो हमारी ही नज़र लग गई एक दूजे को

खुद को रोकना, अब जब मुमकिन न हुआ
तो फिर रोकते थे बस, हम एक दूजे को

-


4 SEP 2020 AT 13:20

ज़रूरी नहीं की

आपका पसंदीदा किरदार,

हर कहानी का हिस्सा हो

कुछ कहानियां

ऐसे ही अच्छी होती है,

बिना उनके

-


30 AUG 2020 AT 10:56

पीछे छूट गए कहीं या कोई और गली उन्हें मुड़ना था

जाने कब वो याद करेंगे, सफ़र में साथ जिन्हें चलना था

-


Fetching Yeda kido Quotes