Vikas Singh   (Taan)
604 Followers · 25 Following

read more
Joined 1 December 2017


read more
Joined 1 December 2017
Vikas Singh 16 HOURS AGO

जो रुक गया वो शिकस्त हुआ
ज़माने की नज़र में,
चलते रहो बस चलते रहो
ज़िन्दगी के सफर में।

-


11 likes · 2 comments
Vikas Singh 16 HOURS AGO

मैं थक कर बस बैठा ही था,
ज़माने में मेरी हार की ख़बर फैल गई।

-


8 likes
Vikas Singh 19 HOURS AGO

रोज होना होता है हाज़िर,
हम है रोज के मुसाफ़िर,
घर से रोज निकल पड़ते है,
घर की ही ख़ातिर।

-


18 likes · 1 share
Vikas Singh 20 HOURS AGO

सुबह निकलते है रात कमाने को,
रात को सुबह की टेंशन सी रहती है।

-


23 likes · 5 comments
Vikas Singh 21 HOURS AGO

वो खाली हाथ ही बुलायेगा,
झोली फैलाकर माँग रहे हो जिससे।

-


25 likes · 2 comments · 3 shares
Vikas Singh 21 HOURS AGO

शमशानो में तजुर्बों के ढ़ेर पड़े है,
सबके तजुर्बे यही धरे रह गए।

-


17 likes · 2 shares
Vikas Singh YESTERDAY AT 20:29

ज़िन्दगी के रास्तों पर मोड़ आएंगे बहुत,
बस याद रखना तुम्हें सीधा चलना है।

-


20 likes · 1 share
Vikas Singh YESTERDAY AT 13:25

या तो ग़म है या रहा होगा,
आंसू यूं ही तो ना छलका होगा।

यूं तो खुशी में भी भर आती है आँखे,
मगर यकीनन ये दर्द का ही कोई लम्हा होगा।

-


22 likes · 2 comments · 1 share
Vikas Singh 13 DEC AT 9:28

या तो ग़म है या रहा होगा,
आंसू यूं ही तो ना छलका होगा।

जब याद आएं तो रो देना कहा था किसी ने,
कुछ ना होगा बस दिल हल्का होगा।

-


21 likes · 1 share
Vikas Singh 13 DEC AT 9:14

या तो ग़म है या रहा होगा,
आंसू यूं ही तो ना छलका होगा।

-


22 likes · 10 comments · 2 shares

Fetching Vikas Singh Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App