QUOTES ON #माँ

New to YourQuote? Login now to explore quotes just for you! LOGIN

#माँ quotes

Trending | Latest
Harsh Snehanshu 13 MAY 2018 AT 22:24

माँ वो पेड़ है
जिसकी छाया जितनी दूर जाओ
उतनी ज़्यादा होती जाती है।

-


Show more
3832 likes · 72 comments · 506 shares
Saket Garg 16 APR 2017 AT 2:11

तुम क्या सिखाओगे मुझे प्यार करने का सलीक़ा
मैंने 'माँ' के एक हाथ से थप्पड़, दूसरे से रोटी खाई है

- साकेत गर्ग

-


Show more
3750 likes · 563 comments · 994 shares
Prashant khakare 17 JAN AT 20:50

हर घर में मैंने बच्चों को अपनी सीमा लांघते देखा है

ना चाहते हुए भी मां को भिख मांगते देखा हैं

-


Show more
1799 likes · 76 comments · 47 shares
Anil 17 MAY AT 12:08

समझाते समझाते जिसकी उम्र निकल गई
"पास" होना कितना जरूरी है,


"अफ़सर" बन जब दूर निकल गए "बच्चे"

अकेले बुढ़ापे में वो "माँ" समझ गई
सच मे "पास" होना कितना जरूरी है....

-


1287 likes · 123 comments · 36 shares
Vipulchandra Parmar 12 MAY AT 9:48

मुजसे मत पूछो मेरा हाल ऐ ग़ालिब
मुजे मेरी माँ से बेहतर कोन जानता है

-


1241 likes · 162 comments · 20 shares
Deepika Keshri 12 MAY AT 13:51

पिता कहते थे
जीवन से जुड़ा पहला आदमी माँ की तरह सुन्दर होता है !

-


1117 likes · 27 comments · 24 shares
Ankita Maran 9 MAY 2018 AT 15:22


बाबा के चले जाने के बाद पूरे घर की ज़िम्मेदारी उठाते देखा है,
कुछ इस तरहा मैंने माँ को भी बाप बनते देखा है।।

-


Show more
1112 likes · 200 comments · 92 shares
Naresh Saxena 18 MAY AT 6:19

सृजन की इस कड़ी में,
अपने पिता की एक बूंद,
और माँ का अवर्णनीय आनन्द हूँ मैं।

-


1088 likes · 26 comments · 14 shares
Prashant khakare 7 JAN AT 20:20

♥️ मेरी मां ♥️

मेरी जिंदगी में वो सबसे अजीज हैं
भीड़ में दुर होकर भी मेरे करीब हैं
जिनकी दुआओ से चलती हैं मेरी जिंदगी
वो मेरी मा हैं जिनके चरणों में खिल जाती हैं
मेरी जिंदगी
_____________________________________

मेरे जिंदगी का वो एक एहसास है
दिल में होकर भी वो मेरी धड़कन हैं
मेरे हर सवाल का वो जवाब हैं
मेरे जिंदगी की वो एक खुली किताब हैं
आंखे खुली होकर भी वो
मुझे सफलता के सपने दिखाती हैं
मै कितना भी हो जाऊ बड़ा
लेकिन मुझे वो आज भी छोटा बच्चा ही समझती हैं

-


Show more
1050 likes · 42 comments · 68 shares
अश्वत्थ 16 MAR AT 21:51

माँ तड़प तड़प के मर गयी भूख से इक रोज,
पण्डो़ ने खा पीकर फिर स्वर्ग पहूँचा दिया।

-


1028 likes · 81 comments · 42 shares
YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App