स्वतन्त्र यादव   (स्वतन्त्र यादव)
3.6k Followers · 3.2k Following

🙏महादेव सर्वोपरि महादेव श्रेष्ठ 🙏
Joined 23 December 2020


🙏महादेव सर्वोपरि महादेव श्रेष्ठ 🙏
Joined 23 December 2020

जेल में डाल दो,चाहे तो बाल काटने पर गोलियां मार दो
मरने पर भी मेरी रूह यही कहे,बस ये हिजाब उतार दो

बेशर्मी कपड़ों से नहीं होती, होती तो तवायफें भी हैं हिजाब में
में क्या हूं कौन हूं मेरी पहचान को हिजाब नहीं स्वतन्त्र आधार दो

-



नियंत्रण रेखा पार कर गया है तुझे तेरा यूं महंगें रिसार्ट शिफ्ट करना
क्यों ना अब द्विपक्षीय वार्ता कर ,गोलमेज सम्मेलन करा लें
बस एक तुम समर्थन कर दो मेरे दावेदारी का
आओ ख़रीद फरोख्त कर मिलीजुली सरकार बना लें।

-



इस बार तेरे इश्क़ की
बेखुदी छा रही है
मैं महका कुछ ऐसे आज
जैसे बारिश बस मेरे लिए
....आ रही है
थी कोशिश मैं लिखूँ
बस बारिश पर
पर हर बूंद जाने क्यों तेरी
ही याद बरसा रही है!!

-



कुछ ख़ुशियां कुछ आंसू दे कर टाल गया
जीवन का इक और सुनहरा साल गया

ये यूं तो इक रस्म-ए-जहां है जो अदा होती है
वरना सूरज की कहां सालगिरह होती है

हसीन चेहरे की ताबिंदगी मुबारक हो
तुझे ये जन्मदिन की ख़ुशी मुबारक हो

-



तस्वीरों में तो हर कोई मुस्कुराता है,
स्वतंत्र तो हंसता है हकीक़त में हरदम।

आपकी मोहब्बतों ने कर दिया मगर,
मेरी इन मुस्कुराती आंखों को भी नम।

मिला दोस्तों का ऐसा कारवां मुझको,
जो बांट लेते हैं मेरे, खुशी और गम।

-



कभी गालों पर तो कभी आंखों पर
अब मैं होश सम्हालूं या
उसकी जुल्फ़ें

-



मेरे सीने की हिचकी भी मुझे खुल कर बताती है.
तेरे मां पापा को गांवों में तेरी अक्सर याद आती है.!

-




जिस अखबार में आज तेरा नाम है ..
कल उसमें ब्रेड समोसा परोसा जाएगा..
एक बार फिर वक्त की बदलती आदत को..
भरपूर कोसा जाएगा .!!

-



ये:-एक साल पहले की बात कुछ और थी मुझे अब इससे शादी नहीं करनी ये बर्तन फेंक कर मारती है
वो:-अब से मारती है या पहले से
ये:-पहले से
वो:-तो अब शादी से मना क्यों
ये:-क्योंकि अब इसका निशाना सही हो गया है




-



"मेरी पीड़ा मुझसे न पूछो,मैं खुद के घर में दंडित हूँ।
मुझे बचाने कोई ना आया, मैं 'कश्मीरी पण्डित' हूँ॥

-


Fetching स्वतन्त्र यादव Quotes