21 FEB 2021 AT 23:42

मैं सूखे पतों की तरह बिखरा हुआ था
मैं!!! सूखे पतों की तरह बिखरा हुआ था
किसी ने प्यार से समेटा और....
आग लगा दी..😜

😂🤦🤩

- Smu