smita kothari   (Smita Kothari)
373 Followers · 42 Following

Exploring myself....
Joined 29 May 2019


Exploring myself....
Joined 29 May 2019
17 SEP AT 19:28

क्या ये दौर हमारा है।
क्यूं हर कोई है मेरे जैसा
क्यूं कोई नहीं सुखी यहां।
मायूसियत पंख पश्राए बैठा
तरसे कण कण भूख यहां।

-


27 AUG AT 22:09

अनुभव दिलाती हैं।
बड़ी बड़ी बातें
दूरियां बढ़ाती है।

-


27 AUG AT 21:53

संभालना, खरचना और देना।

-


27 AUG AT 18:57

who can drench you from heart.

-


27 AUG AT 14:17

It's within and beyond.
Where thoughts are hurdles
and wind is love.
Where Emotions are water
and believe is path.

-


15 AUG AT 21:15

what we are seeing around us.
Freedom is
when thoughts become sensible &
action become responsibility.

-


3 AUG AT 12:55

सावन मास री पूर्णिमा में,आयो यै पावन त्योहार।
सजा कै थाली बहन करै,भाई भावज रौ इंतेज़ार।
बैठा कै जोड़े संग, करै तिलक इक सार।
बढ़ा कै कलाई शान से,बंधवाए राखी प्रेम सार।
दें आशीष बहनों रैं,भवाज लुटावै प्यार।
भतीजा भतीजी होड़ करै,बोलें बुआ लायी उपहार।
करैं आरती सगलों री,खिलावे मीठाई भरमार।
बोलें बलाएं लैं लूं सगली,बरसाउं खुशियों री सौगात।









-


28 JUL AT 22:40

चाहे लाख कोशिश कर लूं।
मन फिर घिर जाता है
चाहे कितना भी भाग लूं।
हूं हैरान ख़ुद को देख के
पर कैसे ख़ुद को संभालूं।

-


28 JUL AT 22:28

overpower



accept changes.

-


22 JUL AT 0:16

सोच के पिटारे से।
थोड़ी रहस्यमई थोड़ी सुलझी
बिखरी हुई इस शाम्याने में।

-


Fetching smita kothari Quotes