Shreyash Rathi  
30 Followers · 15 Following

read more
Joined 12 April 2018


read more
Joined 12 April 2018
5 APR AT 15:38

जुस्तजू है जिस मंज़िल की ,
उसकी राह खिदमत में कहा ;
बेसब्र सी ख्वाहिशें ,
तुरंत मुक्कमल हो ये किस्मत में कहा....!!

-


2 APR AT 22:55

Kuch yu apne sukoon ko
mehfooz rakhta hu ,
Pal bhar ki khushiyon ki taraf
jab apne kadam rokta hu....!!

-


27 MAR AT 19:20

कुछ इस तरह पूरी मैंने अपनी अज़ान कर दी ,
मेरी मुक्कमल खुशी जब हस्ते हस्ते कुर्बान कर दी..!!

-


23 FEB AT 19:31

जिंदगी में आरज़ू सिर्फ इतनी हैं -

ना बनू किसी की बुराई करनेवाला आम शख़्स ,
बल्कि बनू वो आयना
जो दिखाये किसी की अच्छाई का अक्स.....✨✨

-


21 FEB AT 19:02

मेरे खयालात से वाक़िफ कहा हो तुम ,
अहमियत का कोई जर्रा तुम्हारे सिवा नहीं.... ✨

-


24 JAN AT 17:13

लफ़्ज़ों की अहमियत ना समझे ,
तो खामोशी से करना सब्र ;
आसमान को भी कद्र समझती है ,
जब तन्हा रह जाता बे-अब्र....!!

-


21 JAN AT 21:03

Naqaab rakhna fitrat nahi hai meri ,
Kisi ka bharosa rakhna jab
pehli zarurat hai....✨✨

-


25 OCT 2020 AT 12:05

Behtar ki talaash hi kise hai ,
Jab iklauti aarzoo hi saadgi hai.....!!

-


15 OCT 2020 AT 9:12

तजुर्बे ना पूछो दर्द-ए-जिंदगी के ,
बेदर्द अश्कों की स्याही से हमने जज़्बात लिखें है....!!

-


24 AUG 2020 AT 23:56

शायद कुछ फरिश्तों की नेमत बया करने
मेरे पास कोई तर्क ना हो ,
जज़्बात ही होते है काफ़ी
जब कोई हर्फ़ ना हो.....!!

-


Fetching Shreyash Rathi Quotes