Shalini Sahu  
3.0k Followers · 119 Following

read more
Joined 7 July 2019


read more
Joined 7 July 2019
Shalini Sahu YESTERDAY AT 10:06

सब परेशां हैं यहाँ मर्ज-ऐ-मोहब्बत से,
मरहम-ऐ-इश्क़ कोई पता क्यूँ नहीं करता..

जिस्मों और दौलत की चाह है यहाँ सबको,
रूह-ऐ-इश्क़ की कोई खता क्यूँ नहीं करता..

कर लेते हैं वादे हज़ार इश्क़ में शौक से,
उन वादों को कोई अदा क्यूँ नहीं करता..

सब लिखते हैं दूसरे की खामियाँ यहाँ,
ख़ुद को कभी कोई बेवफा क्यूँ नहीं करता..

मिलती है कहाँ सच्ची मोहब्बत अब इस ज़माने में,
कोई इस बात का पता क्यूँ नहीं करता..


-


46 likes · 37 comments
Shalini Sahu 8 JUL AT 18:03

गुमशुम से रहते हो आजकल,
ख्यालों में तुम्हारे ये ख्याल किसके हैं..??
और सुनो! मैं ने तो रूह को छुआ था ना,
ये जिस्मों पर निशान किसके हैं..??

-


57 likes · 31 comments
Shalini Sahu 29 JUN AT 12:50

यूँ तो बहुत कुछ खोया है मैं ने ज़िन्दगी में,
इक तुझे खोने के ख्याल से मेरी रूह कांप जाती है.

-


65 likes · 37 comments
Shalini Sahu 29 JUN AT 12:41

कसम तेरी जाना इक दफ़ा ग़र चले गए तो लौटकर तेरे ख़्वाबों में भी नहीं आएंगे,
जिस तरह करते हैं सब बिन देखे उस ख़ुदा की इबादत उसी तरह हम भी इश्क़ निभायेंगे..

-


Show more
57 likes · 19 comments
Shalini Sahu 29 JUN AT 9:58

इश्क़ में शाम मुझे चुभती बहुत है,
चाहे तू ख़ुद को कर के अलग
ज़िन्दगी में मेरे अंधेरा कर दे..
या रह के साथ ये इश्क़ को पूरा कर दे..

-


60 likes · 17 comments
Shalini Sahu 28 JUN AT 18:19

चीखें हैं





ख़ामोशी है

-


63 likes · 25 comments
Shalini Sahu 27 JUN AT 16:37

बारिश की इन बूंदों से बेरुखी मुझे भी है,
लाख दुआओं के बाद भी उस की यादों को संग ले आती हैं..

-


51 likes · 18 comments
Shalini Sahu 27 JUN AT 6:35

किसी के इतने करीब क्यूँ आये हम,
उससे जुदा होते वक़्त ख़ुद को भी ख़ुद से जुदा पाए हम..

-


65 likes · 18 comments
Shalini Sahu 26 JUN AT 21:55

बेचैन दिल का दर्द बढ़ता जा रहा है,
शुक्र है तेरा मंजिल-ऐ-मौत के कुछ और करीब लाने के लिए..

-


53 likes · 21 comments
Shalini Sahu 25 JUN AT 13:28

इक पहले से तेरी यादें और अब ये बारिश,
ना जाने ख़ुदा सुकून दे रहा है मन को या उलझने..

-


Show more
61 likes · 16 comments

Fetching Shalini Sahu Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App