Shaan Aafridi   (Shaan Aafridi)
12.1k Followers · 114 Following

read more
Joined 29 November 2018


read more
Joined 29 November 2018
8 AUG AT 11:55

मोहब्बत भी गुनाह होती है उसकी भी सज़ा होती है
ये अजीब रिश्ता है जिसमे बेवफ़ाई भी वफ़ा होती है!

-


31 JUL AT 19:05

जो पल कभी तेरी याद से ग़ाफ़िल गुज़रा
उस पल हमने खुद से भी नफ़रत की है

ये मेरे दिल का दर्द क्यों कम नहीं होता
ऐ-दिल क्या हमने दुखो से मोहब्बत की है।

-


11 JUL AT 11:14

हज़ार दफा के रोने से भी खत्म नहीं हुआ
दर्द जो था वहीं रहा कभी कम नहीं हुआ।

-


27 JUN AT 11:42

जितनी शिद्दत से मैंने उसे याद किया
उसी शिद्दत से उसने मुझे नाशाद किया

अरे! उनकी उल्फत से क्या मिला मुझे
उनकी उल्फत ने मुझे खूब बर्बाद किया।

-


24 JUN AT 15:41

प्यार इश्क़ मोहब्बत बस यही जानता है
यह दिल दुनियादारी कहाँ मानता है

वो खूब कहते रहते है, बस मेरे अपने है
पर ये नादां अपनों को खूब पहचानता है।

-


8 JUN AT 15:34

तुम्हारे बेवफा हो जाने की बात किससे कहुँ
ज़ख़्म दिल पर खाने की बात किससे कहुँ

मेरी जुदाई के गम को कोई भी नहीं सुनता
तुम्हारे बाद सुलगने की बात किससे कहुँ

कैसे बताऊं की तुझे कहाँ-कहाँ नहीं ढूँढा
गली-गली में भटकने की बात किससे कहुँ

अभी तो हिज्र की तारीकिया है दोनों तरफ
अभी जान से गुज़रने की बात किससे कहुँ

तेरी चाहत में बेचैन यह अब भी रहता है
मैं दिल के धड़कने की बात किससे कहुँ।

-


30 MAY AT 15:47

होंठ सी लिए है मैंने जुदाई के मोड़ पर
बस देखता ही रहा जहाँ तक नज़र गयी

तेरे लिए तो ख्वाब था आया गुज़र गया
पर देख ज़रा मेरी तो ज़ात बिखर गयी।

-


24 MAY AT 12:25

कैसे बताता में कहानी दिल-ए-वीराने की
तुम्हे तो बड़ी जल्दी थी मुझसे दूर जाने की !

-


16 MAY AT 21:07

एक तस्वीर ख्यालों में बनाता रहा हूं
हिज्र में शब भर आँसू बहाता रहा हूँ

वो शख़्स पलभर को भी मेरा ना हुआ
जिसके दर पे मैं सजदे लुटाता रहा हूँ।

-


11 MAY AT 14:42

एक ख़लिस है दिल को घेरे
अजीब सी खामोशी छायी है

इन चुबती हुई तन्हाइयों में
आज तेरी याद बहुत आयी है।

-


Fetching Shaan Aafridi Quotes