Pratik Raj Mishra  
6.5k Followers · 382 Following

read more
Joined 26 May 2017


read more
Joined 26 May 2017
2 APR AT 1:03

टूट जाती है मेरी आस बस इक ही इतवार में
जाने शबरी ने कैसे उम्र काटी होगी इंतज़ार में

-


23 FEB AT 15:58

पूछो मत तुम हाल मेरी बेताबी का
दिल पे ताला , पता नहीं है चाभी का

-


3 NOV 2021 AT 0:05

जैसा बनाना चाहा, वैसी ही बन गई
मिट्टी कितना करती है कुम्हार पे भरोसा

-


9 MAY 2021 AT 21:14

दुनिया में एक फरिश्ता सबसे जुदा देखा
जब भी मां को देखा , लगा की खुदा देखा

-


23 APR 2021 AT 14:05

घूम रहे बुद्धिजीवी के भेष में
चूतियों की कमी नहीं है देश में

-


7 FEB 2021 AT 22:26

If I could go back in time, I would have fucked up in a different way.

-


27 JAN 2021 AT 12:39

तुम्हारी ज़ुल्फें , मेरे हाथ , और रात
लबों पे लब , कायनात , और रात
आंखों से हो , सारी बात , और रात
रोज़ तुम , मेरे साथ , और रात

-


12 JAN 2021 AT 23:50

मैं था, तुम थी, तनहाई थी
जाने वो वस्ल था, जुदाई थी?

-


17 DEC 2020 AT 0:33

वो जिसकी ज़िन्दगी से बाहर आए
रूह उस आदमी से बाहर आए

-


19 OCT 2020 AT 23:02

Paid Content

-


Fetching Pratik Raj Mishra Quotes