Pragya Nema  
2.6k Followers · 26 Following

read more
Joined 16 August 2017


read more
Joined 16 August 2017
Pragya Nema 11 HOURS AGO

लहरें इश्क़ की दरमियान, बेबाक मचलती रहीं
डूबने की तलब थी मुझे, वो किनारे तलाशता रहा

-


30 likes · 7 comments
Pragya Nema YESTERDAY AT 1:56

सोचती हूँ कहीं और उलझ जाऊं
कुछ उलझनों का शायद यही हल है

-


43 likes · 7 comments
Pragya Nema YESTERDAY AT 0:55

मसला दरमियान सिर्फ दूरियों का है
ख़्याल उससे अब भी वाबस्ता हैं मेरे

-


वाबस्ता - Bound together
#yqbaba #yqhindi #yqdidi #yqhindiurdu #love

40 likes · 4 comments
Pragya Nema 1 APR AT 0:55

तुम्हारा इश्क़ मैंने
किताबों में छिपाकर
मेहफ़ूज़ रक्खा है
तुम मेरी रूह
सहेज कर रखना
जो मैं छोड़ आयी हूँ
तुम्हारे जिस्म पर
तुमसे गले लगते वक़्त !

-


36 likes · 12 comments
Pragya Nema 1 APR AT 0:34

मुझे इक रोज़ ले डूबेगी ये खामोशियाँ तेरी
शायद ताउम्र चलेगा अकेले में बात करना मेरा

-


40 likes · 18 comments · 1 share
Pragya Nema 26 MAR AT 22:38

उम्मीद के चराग जलाता ही नहीं
और मसीहे की राह तके बैठा है

-


Show more
52 likes · 8 comments
Pragya Nema 21 MAR AT 20:20

दहलीज़ लांघना मुसलसल मुनासिब नहीं
टटोलो खुद को बहुत है अंदर समेटने को

-


34 likes · 8 comments · 1 share
Pragya Nema 20 MAR AT 22:30

जाने कौन अता कर गया रंजिशें ये
मशवरा फ़ासले का काम आ गया

-


42 likes · 8 comments · 1 share
Pragya Nema 18 MAR AT 14:47

सन्नाटा क्यों ये पसर गया ज़िन्दगी में
जो गया महज़ इक शख़्स ही तो था

-


41 likes · 10 comments · 2 shares
Pragya Nema 18 MAR AT 7:13

शीतल नदी का थमा सा बहाव मैं
समुद्र की लहरों में पड़ने वाली
सलवटों से तुम
मुनासिब नहीं
हमारा किनारों पर मिलना
मैं खुद को खोकर
मिल जाती हूँ
तुम्हारी गगनचुम्बी लहरों के शोर में
बाँधती हूँ ढांढस
चाँद की अठखेलियों को ताककर
और पा जाती हूँ
तुम्हारी उमड़ती करवटों में
अपना अस्तित्व
जो महज़ सुकून देने वाला
इक भ्रम है
और कुछ नहीं !

-


34 likes · 9 comments

Fetching Pragya Nema Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App