Nikki Prabha Tiwari 27 AUG 2018 AT 1:29

मैं भूल गई हूँ , उसे अब याद नहीं करती।
ये झूठ मैं हर रोज़ ख़ुद को बोलती हूं।।

-


Amit Kumar 23 JUL 2018 AT 21:08

चर्चे कामयाबी के हों हमेशा, ये लाज़मी तो नहीं।
बर्बादियाँ भी शख़्स को, मशहूर किया करतीं हैं।

-


Arun Prakash Singh 1 FEB 2017 AT 10:06

कैसे खुश रहते हैं,
ये तू आज बता दे,
या तो झूठ बोलना सिखा दे,
या फिर वो राज़ बता दे।

-


Md writer 12 APR 2018 AT 16:01

ऐसा नहीँ है की
मेरी जिंदगी में कोई आना नही चाहता था
बस,हमने इजाज़त नहीँ दी किसी को...सिवाय आपके

-


Ayushi Dauneriya 10 JUN 2017 AT 18:42

मोहब्बत का आलम तो देखिये जनाब,
उनकी दिलचस्पी में भी दिलचस्पी होने लगती है

-


Panku writer 3 APR 2019 AT 16:47

कृष्ण की बाँसुरी सुन , राधा इस कदर झूम गई!
पहनी एक ही "PAYAL" और ,
दूसरी पहनना भूल गई!!
(कान्हा की बंशी मन मोह ले गई)
(जय श्री कृष्णा)
🌹🙏🌹

-


Pratik Raj Mishra 14 SEP 2017 AT 23:25

एक अरसे से मुझको कहीं नज़र नहीं आये ,
बच्चे जबसे कमाने लगे कभी घर नहीं आये ,

मेरी हालत देख कर सोचता है वो परिंदा भी ,
अच्छा हुआ कि मेरे बच्चों के पर नहीं आये ।

-


Sunidhi Pandey 21 FEB 2019 AT 22:35

वो ठंडी हवाएं , बनारस की शाम🌹
वो अस्सी की चाय , और तुम मेरी जान😍

-


Prasoon Vyas 6 JUN 2017 AT 23:03

एक दूसरे से दोनों
तकरीबन रोज़ बतियाते हैं
शर्त जो ये लगी है कि
कौन ज़्यादा अकेला है ज़िंदगी में..

-


Pragya Maurya 20 APR 2019 AT 14:49

वो कहते हैं,, मैं गजब लिखती हूँ..,,
बेख़बर! मैं तेरा ही दिया हुआ, हर दर्द लिखती हूँ !!

-



स्वेटर की तरह बुना था जो रिश्ता
कहीं उसका धागा एक छूटा हुआ है

-


Avinash Kumar 20 AUG 2018 AT 16:44

पल दो पल आकर मेरे संग बिताना तुम
हो सके तो इस बरसात ठहर जाना तुम

-


Prasoon Vyas 14 JUL 2017 AT 10:09

छत की हवाएँ बदल चुकी हैं लेकिन
तेरी पतंग आज भी मेरे धागों से उड़ती हैं..

-


Last Smile Lost ✬ 28 JAN 2018 AT 23:31

Zindagi Ki Raho Me Humsufer Na Mila...Ek Khwaab Dekh Vo Bhi Pura Na Ho Ska,











Hum Gham Kyon Kare Ki Wo Hame Na Mila …Gham To Wo Kare Gah Jinhe Hum Na Mile.

-


Ashish Awasthi 4 OCT 2017 AT 22:44

यूँ तो ज़िन्दगी में अहबाब हमने खोये बहोत
बस आरज़ू है के मरने पे ज़माना रोये बहोत।।

-


Ek Khwab Si Ladki 29 AUG 2018 AT 21:18

कोई गाँठ खोल दो इन उलझे रिश्तों की
मेरी ज़िंदगी का, ये दम घोंट रही हैं

-


Prashant Khakare 4 SEP 2018 AT 1:46

मै एक लेखक हूं
कुछ बताता हूं, कुछ जताता हूं

-


Gulshaad Khan 29 JUL 2019 AT 10:24

. .

-


Aakash 20 JUL 2019 AT 12:25

Itihaash,
kese banta hai..?

Mai likhu or tum padhon..

-


Aishwarya Rane 6 MAY 2019 AT 19:17

ख़्वाबों की चांदनी
अगर मंजर बन जाए
तो वो हूँ मै...

इन आँखों में डूबकर
तेरे रूह को छु लू
तो वो हूँ मै...

तुझे तुझसे भी ज्यादा
अगर कोई जाने
तो वो हूँ मै...

-


Ayena Makkar Girdhar 22 AUG 2018 AT 23:46

बीते लम्हों की यादों ने जब सीने में द्वंद्व इंक़लाबी कर दिया
मैंने मुट्ठी खोल दी फ़लक की ओर उसे भी गुलाबी कर दिया

-


Meghana Bose 18 DEC 2017 AT 0:07

ख़ुशियाँ बाँट दी सबको,
पर खुद की हसरतें सब राख है;
दिल तवायफ़ बन गया है,
पर जिस्म आज भी पाक है।

-


Prasoon Vyas 28 JUN 2017 AT 19:10

अगली बार आओ
तो बारिश भी साथ ले आना
उसमें से मुझको
तुम्हारे खोए हुए अश्क़ ढुँढने हैं..

-


Supriya Mishra 29 AUG 2019 AT 0:17

और मोहब्बत ने आखिर किया क्या है
वजह दे दी है, बेवजह मरने वालों को

- सुप्रिया मिश्रा

-


Fetching Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App