12 APR 2018 AT 16:01

ऐसा नहीँ है की
मेरी जिंदगी में कोई आना नही चाहता था
बस,हमने इजाज़त नहीँ दी किसी को...सिवाय आपके

-


23 JUL 2018 AT 21:08

चर्चे कामयाबी के हों हमेशा, ये लाज़मी तो नहीं।
बर्बादियाँ भी शख़्स को, मशहूर किया करतीं हैं।

-


17 MAY 2020 AT 12:17

Abhi tu sahi se mila bhi na tha,
Ke chor gya,
Ishq krna to dur ki baat,
Bina ishq kiye hi dil tod gya...💔

-


19 AUG 2018 AT 1:50

आधी उम्र मोहब्बत से दूर भागे हम
बाकी की आधी, मोहब्बत हमसे...

हिसाब बराबर.

-


4 JUN 2020 AT 17:34

।। बादलों से ज्यादा हमारे आँखें बरसती हैं
कहीं शहर से पहले हमारा घर ही ना डूब जाए ।।

-


1 FEB 2020 AT 21:16

Chalo na firse ek naye shuruaat karte h,
Isbar tm ishq karo
saude mai
Hum nafrat karte h.

Kuch bikhre dastan firse likhte h,
Isbar kore kagas tm bharo,
Zarre-zarre mai
Hum bewafai karte h.

-


24 APR 2020 AT 10:00

भूल जाने की शिकायतें आज वो करते हैं,
जिन्हें याद नहीं था मेरा होना भी।

-


28 JAN 2018 AT 23:31

Es Shehar Me Ek Humsufer Na Mila
Hzaro Khwaishe Thi Puri Na Ho Ski
Hum kiss batt ka Gham Kare Ki Wo Hame Na Mila?
Zindagi Mai Gham To Wo Kare Gah Jise Hum Nahi Mile.

-


19 MAY 2020 AT 13:31

जो शख़्स राहत दे उस शख़्स की तलाश है मुझे
यूं तो बहुत है बेबाक मोहब्बत करने वाले
मगर सिर्फ सच्चे इश्क़ की प्यास है मुझे।

-


11 JUL 2020 AT 17:28

तुम्हें क्या पता कैसा हैं हाल हमारा,
एक तो शहर बंद,उपर से ख्याल तुम्हारा।

-


14 SEP 2017 AT 23:25

एक अरसे से मुझको कहीं नज़र नहीं आये ,
बच्चे जबसे कमाने लगे कभी घर नहीं आये ,

मेरी हालत देख कर सोचता है वो परिंदा भी ,
अच्छा हुआ कि मेरे बच्चों के पर नहीं आये ।

-


29 AUG 2019 AT 0:17

और मोहब्बत ने आखिर किया क्या है
वजह दे दी है, बेवजह मरने वालों को

- सुप्रिया मिश्रा

-


6 JUN 2017 AT 23:03

एक दूसरे से दोनों
तकरीबन रोज़ बतियाते हैं
शर्त जो ये लगी है कि
कौन ज़्यादा अकेला है ज़िंदगी में..

-


17 FEB 2019 AT 2:41

धीरे धीरे नैय्या डोले
हौले हौले मनवा बोले
लहरों के संग होले
ओ नांवरी...

धीमे धीमे पूर्वा गाए
मद्धम मद्धम मेघ छाए
भंवर कोई पड ना जाए
ओ सांवरी...

भीनी भीनी खुशबू जागे
झीनी झीनी चन्दन लागे
मन कस्तूरी पीछे भागे
ओ छांवरी...

झलकी झलकी हवा महके
ढलकी ढलकी रैना बहके
हल्की हल्की आग दहके
ओ बांवरी...

-


26 OCT 2019 AT 19:39

लोग पूछते हैं की लफ्ज कहाँ से लाते हैं,
हम तो बस इस दिल का हाल बतलाते हैं।
जरा सा कलम को कागज पर रुलाते हैं,
जनाब यूँ ही नही हम शायर कहलाते हैं।।

-


8 MAY 2020 AT 10:25

जब कभी होता है ज़िक्र तेरा
मैं बस इतना कह कर चुप हो जाता हूं
की तुझसे इश्क़ करना गलती थी मेरी
जिसके लिए मैं आज भी पछताता हूं।

-


2 OCT 2019 AT 14:46

Steps & Details of YQ Publishing :)

-


29 JUL 2019 AT 10:24

. .

-


1 MAY 2020 AT 23:21

हर नज़्ज़ारा डूब रहा है,
आँखों में इतना पानी है,

मौत ही केवल सच्चाई है,
ये जीना नौहा-ख़्वानी है,

जाने वालों ने ज़िद कर के,
बात न कोई भी मानी है,

-


4 OCT 2020 AT 16:15

रूह को पढ़ने का भी हुनर नवाज़ दिया होता मालिक
तेरी दुनिया में अब हैवान इंसानी लिबास में रहता है

-


7 JUL 2019 AT 16:05

Tum Kya Jano Kaisa Lagta Hain..
Kisi Se Be-Inteha IshQ Krna
Phir Uska Bewafa Ho Jana
Kisi Ke Sath To Chalna,
Magar Uska Na Ho Pana..

Khud Ko Koste Rehna
Magar Usko Kuch Na Kehna
Khud Girna, Gir Kar Uth Jana
Hasna Aur Haste Hue Ro Dena
Tum Kya Jano Kaise Lagta Hain..

Hijr Ki Lambi Raaton Mein
Uski Yaadon Main Siskna..
UsKo Sochte-Sochte
Apni Aankhein Band Karna
Aur Andhere Main Chale Jana..

Tum Kya Jano Jaana Kaisa Lagta Hain..(:

-


20 AUG 2018 AT 16:44

पल दो पल आकर मेरे संग बिताना तुम
हो सके तो इस बरसात ठहर जाना तुम

-


8 MAY 2018 AT 20:52

सुना है वो आने वाली है अपना प्यार लें कर..
मैं भी खड़ा रहुगा उसके दीदार मे कोहिनूर का हार लेकर..!

-


27 AUG 2020 AT 10:17

भला-बुरा तो परवरदिगार करता है,
अरे अर्श तू क्या गिले उससे बार बार करता है,
सही वक़्त है सियासत मे कदम रख के देख,
कम से कम शायर तो तेरी बात का ऐतबार करता है..

-


Fetching Quotes