Nitin Mathur   (Savnit)
103 Followers · 10 Following

read more
Joined 11 September 2019


read more
Joined 11 September 2019
Nitin Mathur 13 JUN AT 22:54

मेरे प्यार ने सहेज कर रखा है मूझे
वरना तेरे प्यार में तो मरने चले थे

-


Show more
8 likes
Nitin Mathur 10 JUN AT 10:58

हर रोज़ कोई सपनों में आकर मीठी तान सुनाता है
जब भी उसको देखूँ मुझको जाने क्या हो जाता है।
(Full poem in caption)

-


Show more
11 likes · 1 share
Nitin Mathur 6 JUN AT 13:34

हर घड़ी बदल रही है रूप जिंदगी
छाँव है कभी, कभी है धूप जिंदगी
हर पल यहां जी भर जियो
जो है समां कल हो न हो

-


7 likes
Nitin Mathur 3 JUN AT 21:44

शायद इंसान समझ नहीं पा रहा
बेजुबान जानवरो को क्यूँ तू तड़पा रहा
ये तेरी करनी का ही फल है जो
आज प्रकृतिक के द्वारा दिखाया जा रहा
कभी कोरोना, कभी निसर्ग
तो कभी अम्फान आ रहा
क्यों तू बेजुबान जानवरो को मार कर खा रहा
इंसान तू अपने ही खोदे खड्डे में गिरता जा रहा
प्रकृति द्वारा इंसान को इशारा किया जा रहा
अभी अगर तू सम्भला नहीं
तो तेरे सर पे बड़ा खतरा मंडरा रहा

-


5 likes
Nitin Mathur 31 MAY AT 20:07

तेरे जाने से चली गयी थी जो बहार मेरे शहर की
देख तेरे आने से वापिस लौट आयी है

-


4 likes
Nitin Mathur 31 MAY AT 9:06

*तेरे प्यार में*
मैं तेरे प्यार में एक तारा बनना चाहता हूं
तेरी हर खवाइश के लिए सो बार टूटना चाहता हूं

चाहत में तेरी मैं वो चारदीवार बनना चाहता हूं
तेरे एक इशारे पे सो बार बिकना चाहता हूं

तेरे इश्क़ के मौसम में वो अनार बनना चाहता हूं
तेरी नाज़ुक उंगलियों से सो बार टूटना चाहता हूं

आशिक़ी में तेरी तेरा हमराज़ बनना चाहता हूं
तेरे साथ हर पग पे तेरे साथ चलना चाहता हूं

मोहब्बत है तुझसे ये इजहार करना चाहता हूं
करता नहीं हूं क्योंकि,
तेरी दोस्ती को बरकरार रखना चाहता हूं

-


9 likes
Nitin Mathur 30 MAY AT 8:21

बहुत दिनों के बाद वो चेहरा नज़र आया है
जिसे देख कर मैंने अपना ईद का त्योहार मनाया है
ना जाने कहाँ खो गया था वो इस मंदी के मोसम में
आकर उसने फिर से मेरे दिल में वसन्त जगाया है
फूट रही है नयी उमंगे, यादो की डाली पर ख्वाब नजर आया है
देखर उसे बहुत दिनों के बाद मन मे एक नया फूल खिल आया है
नाराजगी थी इस दिल को बहुत, बात नही करनी थी
उनकी मीठी प्यारी बातो ने इस बेचारे को पिघलाया है
चलो छोड़ो जाने दो, एक रहम उन्होंने बरसाया है
आकर मेरे दिल में फिर से उस मोहब्बत को जगाया है

-


15 likes · 1 share
Nitin Mathur 29 MAY AT 21:20

सोया हुआ था कई दिनों से
आज तूने मुझको उठा दिया
दिल मेरा चुप था कई दिनों से
आज तूने उसको रुला दिया
भूल गया था जो रिश्ता मैं
आज तूने वो याद करा दिया
बहुत दिनों से मिला नही था
आज तूने उससे मिला दिया

-


7 likes
Nitin Mathur 25 MAY AT 21:44

जरुरी नहीं कि इंसान प्यार की मूरत हो,
सुंदर और बेहद खूबसूरत हो,
अच्छा तो वही इंसान होता है,
जो तब आपके साथ हो,
जब आपको उसकी जरुरत हो।

-


12 likes · 2 comments
Nitin Mathur 23 MAY AT 22:04

नादान है वो
उसे समझाएं कोई
बात न करने से मोहब्बत
कम नही होती

-


8 likes

Fetching Nitin Mathur Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App