22 FEB AT 22:07

नज़रों से दिखे वो
अक्सर वो खुबसूरती नहीं होती
नज़रों से दिखे वो
अक्सर वो खुबसूरती नहीं होती
मगर क्या करे इस दुनिया में
नुमाइशे अक्सर जिस्म की होती
मन की सुंदरता का गहना
नहीं हे किसी को भाता
उनका हुस्न ही सबकी आंखों ठंडक हे पहुंचाता

- CCC-Nitin Deshmukh