NiKki Dagdiya   (दगड्या🍃)
362 Followers · 103 Following

जय धारी माँ 🙏🏽💐

*******216
देवभूमि_उत्तराखण्ड.... मेरो गढ़.....
Joined 16 October 2017


जय धारी माँ 🙏🏽💐

*******216
देवभूमि_उत्तराखण्ड.... मेरो गढ़.....
Joined 16 October 2017
NiKki Dagdiya 12 OCT AT 23:20

उससे कहा था मुझे ऑनलाइन आने में देर हो जायेगी
10 मिनट इंतजार करना, नही आई तो तुम सो जाना
दो घंटे होने को आये और वो पागल अब तक जगा है
कि #कहाँ_गई.. आ जाओ ना अब ऑनलाइन 😐

नटखट_दगड्या

-


Show more
11 likes · 2 comments · 1 share
NiKki Dagdiya 12 OCT AT 13:32

आज दो साल बाद अचानक एक स्कूल की दोस्त मिली।
क्लास 2nd से लेकर इंटर दोनों ने साथ किया,सोचो कब से मुझे
जानती होगी फिर उसकी शादी हो गई । शुरू शुरू में तो उससे बात होती थी, फिर उसका फोन आना भी कम हो गया और जब मैं करती तो ये कह कर फोन काट देती कि यार अनुराग आने वाले है , सास के साथ जाना है..ये ,, वो, मैं भी समझ गयी शादीशुदा है जिम्मेदारियों से घिर गयी होगी। मौका मिलेगा कर लेगी फोन ... फिर कभी कभार WhatsApp मे जन्मदिन या कोई त्योहार होता तो बधाई दे देती। आज अचानक मिल गयी दोनो एक ही ऑटो में थे ... पहले तो नोर्मल बात हुई, एक दूसरे के हालचाल जाने ..
उनका मानना है कि मैं घमंडी हो गयी हूँ किसी से बात नहीं करती, जबकी उसको भी पता है..मै सुबह की गई शाम घर आती हूँ
अपनी व्यस्तता के चलते अगर मैं उनको फ़ोन नहीं कर पाती हूँ तो
मुझे समझने की बजाय समझा गयी कि मैं क्या हूँ 😢...

आजकल रिश्ते कितने कमजोर हो गए हैं ना😐

-


Show more
14 likes · 3 comments · 1 share
NiKki Dagdiya 8 OCT AT 21:40

रावण रूप देकर
एक पुतले को हम जला आये..
काश जला पाते हम अपने अंदर की
नफरत , अहंकार को भी...
.
.
आप सभी की जीवन में आई परेशानी रूपी रावण का अंत हो।

#नटखट_ दगड्या की तरफ से सभी दगड्यों को
#विजयादशमी की हार्दिक शुभकामनाएँ ।

-


Show more
16 likes · 1 comments
NiKki Dagdiya 27 SEP AT 15:29

सुनो ना
कभी मैं ना कह पाऊँ कि
"तुम अपना ख्याल रखना"

क्या तुम नहीं रखोगे क्या 😌

-


Show more
14 likes · 3 comments
NiKki Dagdiya 22 SEP AT 13:10

परी
नहीं
अभिमान
होती
~हैं~

-


Show more
19 likes · 1 comments
NiKki Dagdiya 22 SEP AT 11:43

अिीुूईूाैौ
थिीीीयइिििितउुुूेऊ
णगंीेिणीईईूुीि

#नटखट_ जैसे लिख के दिखाओ😎

-


15 likes · 5 comments
NiKki Dagdiya 18 SEP AT 16:17

बहुत तलाश किया कहीं सुकून ही न मिला,
फिर रूख किया मैंने अपने पहाडों का।

हरी भरी धरती , झरनों का मनभावन संगीत
बादलों से ढके पहाड़, कलकल करती नदियां।

मिल गई जन्नत और ढेरों खुशियां देवभूमि में
खुश हूँ अब मातृभूमि के आग़ोश में आकर ।।
#नटखट_

-


Show more
25 likes · 3 comments · 3 shares
NiKki Dagdiya 16 SEP AT 20:03

०१) त्रिनेत्री शंभु
हाथ डमरू, त्रिशूल
मन सुहाय

०२) त्रिलोकी शिव
जग के संहारक
कल्याणी शिव

०३) महान ज्ञानी
विद्यमान चहुँ ओ
विकट ध्यानी

०४) वो जटा धारी
जीवन के स्रोता भी
ओंकार शिव

०५) रंग उमंग
समाया है, जिसमें
हर धाम भी

०६) हिमाला वासी
प्राण भी, श्वांस भी हो
अमृत भी हैं

०७) देव- पिशाच
वो भस्म रमईया
मसान नाचे

-


18 likes · 2 shares
NiKki Dagdiya 16 SEP AT 16:40

सखी बनके
मेरे सुख-दुख में..
साथ रहना.....

जब रूठूँ तो
बांहे गले में डाल
यूँ मना लेना....

मेरी बिंदिया
अपने माथे लगा
लाड दिखाना.....

अब हँसो ना
माथे को चूमकर
कहना तुम......

फरमाईश
ये बनाओ ना आज
ये खाना है माँ..

माँ ऐसे रहो
ये पहनो वो नहीं
प्यार जताना.. 🍃 #नटखट_

-


25 likes · 7 comments · 1 share
NiKki Dagdiya 10 SEP AT 22:20

कितनी अजीब है ना
ये के जिन्दगी रंग भी...
कभी हंसी के ठहाके
कभी आंसुओं की बाढ़
कभी असहनीय दर्द
कभी अपनों के खोने का गम
पास होकर भी अपनो से दूरी
कभी अंधेरों को साथी बनाना
कभी सपनों की चादर में
तकिये को बाहों मे लेकर
आंसुओं को साथी बना लेना !! #नटखट_🍃

-


Show more
12 likes

Fetching NiKki Dagdiya Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App