3 AUG AT 22:54

जो बदलते हैं मिज़ाज कपड़ों की तरह,
हमारे दिल का हाल वो क्या समझेंगे।

- Munishradhika