M K Yadav   (M K Yadav)
4.4k Followers · 27.5k Following

read more
Joined 27 April 2018


read more
Joined 27 April 2018
M K Yadav 6 JUN AT 16:23

कौन कहें तुम्हें
की तुम नादान हो
तुम से मेरी ये ख़ुदाई है
संग तेरे जब से यार चला मैं
तूने ख़ुशियों से सेज सजाई है।

ना समझ हूँ मैं
जो समझ सका ना
खामोश क्यों तेरी जुबानी है
ग़म पीके जख्म ना दिखने दिया
तूने हर पल मेरी लाज़ बचाई है।

कौन कहें तुम्हें
की तुम नादान हो
तुम से मेरी ये ख़ुदाई है
संग तेरे जब से यार चला मैं
तूने ख़ुशियों से सेज सजाई है।

त्याग का मोल
वो रब जाने है
दिल की बातें दिल माने है
जिसे खुला दर्पण ना देख सका
मिली बंद आँखों में वही सच्चाई है।

कौन कहें तुम्हें
की तुम नादान हो
तुम से मेरी ये ख़ुदाई है
संग तेरे जब से यार चला मैं
तूने ख़ुशियों से सेज सजाई है।

-


185 likes · 27 comments · 1 share
M K Yadav 6 JUN AT 5:23

हसरतें हर रोज बदलती है
ज़िंदगी लम्हों में ढलती है
कल दाने-पानी को तरसती थी
वो भूमि आज महकती है

-


210 likes · 21 comments
M K Yadav 31 MAY AT 14:19


जितने गहरे तूफ़ान आये
दरिया उतना बड़ जाता है
एक-एक बूँद गिरने से पूरा
आसमान फट जाता है।।

-


185 likes · 12 comments
M K Yadav 31 MAY AT 14:11

ना बिकता है कही नाम हमारा
हम तो मेहन्नत के आदी है
जिनसे जीवन का मोल भड़े
हम उन कर्मो के साथी है

-


171 likes · 11 comments · 1 share
M K Yadav 29 MAY AT 9:21

एक लक्ष्य बाँध ले
और रस्ता साध ले
जिंदगी का क्या भरोसा
तेरी कब तक सांस चले

ना डीज़ल पेट्रोल या सी न जी हो
केवल दिल में आग जले
नामुमक़िन नहीं है कोई रस्ता
जहाँ आशा के फूल खिले

एक लक्ष्य बाँध ले
और रस्ता साध ले
जिंदगी का क्या भरोसा
तेरी कब तक सांस चले

उन्मुक्त है ये बातें
पावन बड़ी है राते
सोने से पहले जागो तुम
इस पल में ज्ञान मिले।।

-


Show more
222 likes · 14 comments · 2 shares
M K Yadav 28 MAY AT 18:14

आत्मज्ञान

भोली सूरत के होने से
कोई भगवान नहीं बनता
चेहरा पूर्वज का रखा है
किसको समझेगी जनता
लोहा स्वंम पिघलता है
किन्तु अग्नि में जलने से

मात्र निर्दोष कुचलने से
तख़्तों ताज़ नहीं सजता।।

-


Show more
214 likes · 20 comments · 4 shares
M K Yadav 28 MAY AT 10:58

अकेला जब-जब
जहाँ चला मैं

साथ था खुद,
खुद का साथी बना मैं

व्यर्थ में व्यथा
अपनो को तरसें

मुर्दे पे ना जाने
कितने फ़ुल बरसें।।

-


Show more
216 likes · 24 comments
M K Yadav 23 MAY AT 22:40

दरिया कभी सुखा नहीं
सुखी है एक धारा
दिल से बड़ा ना सागर कोई
ना आश से बड़ा किनारा।

-


205 likes · 42 comments
M K Yadav 21 MAY AT 13:27

धूप से भी क्या डरना यारा
ये आसमान का आँचल है
लेकर आये जो नया सवेरा
चमकता हुआ वो बादल है

गर्म न होंगी अगर ग्रीष्म
तो सावन कहा से आएगा
पानी को तरसेंगी नज़रें
आपात अकाल छा जाएगा।

प्रकृति एक तहज़ीब है
इसे कठपुतली मत बनाओ तुम
वो चलती है सब के संग में
रंग अपना मत बतलाओ तुम

-


Show more
190 likes · 26 comments · 2 shares
M K Yadav 20 MAY AT 13:19

एग्जिट पोल 2019

होली है भाई होली है
ये मोदी वाली होली है

राहुल ने जतन किया
प्रियंका ने नमन किया
सोनिया तुम से पूछ रही
क्यों खाली फिर से झोली है

होली है भाई होली है
ये मोदी वाली होली है

एक शाह ने पूरा थाल सजाया
एक सिंह में नवजोत की बोली है
न यू. पी आई न ममता बाई
बस केरल में तूती बोली है

होली है भाई होली है
ये मोदी वाली होली है

था सब का मंत्र या सडयंत्र
माँ मै पोजीशन लाया है
चाहे मोदी बने पी.म. लेकिन
विपक्ष में काँग्रेसी टोली है।

होली है भाई होली है
ये मोदी वाली होली है

-


140 likes · 8 comments · 2 shares

Fetching M K Yadav Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App