Khwahish Shah   (Khwahish shah)
2.8k Followers · 194 Following

read more
Joined 29 August 2018


read more
Joined 29 August 2018
15 OCT AT 22:54

काला रंग दुःख है ...
(अनुशीर्षक में पढ़े)

-


13 OCT AT 19:59

कभी कभी कुछ प्रेमिकाएँ प्रेम पा लेती हैं ....
पर प्रेमी को खोकर ....!

-


5 OCT AT 20:02

अस्पताल के
उस अंधेरे कमरे में...

(अनुशीर्षक में पढ़े)

-


4 OCT AT 17:19

चादर...
(अनुशीर्षक पढ़ें) ...

-


28 SEP AT 7:41

हे राम ..
(अनुशीर्षक में पढ़े)

-


26 SEP AT 14:01

प्यारे बाउजी

को जन्मदिवस
की बधाईयाँ....


बिटिया ..

-


24 SEP AT 7:16

आभार🌼

-


23 SEP AT 18:53

किसी की
प्रतीक्षा या
उसे प्रेम करना
व्यर्थ हैं अगर
उस इंसान को
आपकी प्रतीक्षा की कद्र
और आपके उसे
प्रेम करने से प्रसन्नता ना हो ...!

-


17 SEP AT 21:03

तुम्हारा एकांत
(अनुशीर्षक में पढ़े)

-


16 SEP AT 18:40

बाप के सिर का बोझ
होती हैं बिन ब्याही बेटियाँ ,

और नकारे बेटे माँ की छाती
पे रखे पत्थर ...!

-


Fetching Khwahish Shah Quotes