Jayantee Khare   (जयन्ती)
159 Followers · 64 Following

read more
Joined 27 April 2017


read more
Joined 27 April 2017
Jayantee Khare 5 HOURS AGO

नींद में बन के ख़्वाब तुम
कभी बूँद बूँद बरसना,
मैं तुम में डूबकर
चूनर धानी हो जाऊँगी...।
अबकी बार बादल बन
तुम बारिशों में आना,
मैं तुममें समाकर
ख़ुद फ़ानी हो जाऊँगी...!

-


Jayantee Khare 8 AUG AT 7:22

ख़्वाहिश के खून होने से नींद आ जाती है
ख़्वाब की ख़ुदकुशी से सुबह खिलखिलाती है

-


Jayantee Khare 7 AUG AT 12:41

जज़बात
अश्क़ों में पिघलते हैं
अल्फ़ाज़ बनकर
नज़्मों में ढलते हैं,
धुंध दर्द की
आँखों में छाई है
ग़ुबार दबे से
इस तरह निकलते हैं...!

-


Jayantee Khare 6 AUG AT 22:04

जी नहीं भरता इन मुख़्तसर मुलाक़ातों में
सुक़ून नहीं आता गाहे-बगाहे की बातों में
इस दिल-ए-मुज़्तर को ज़रा आराम दे दो
यकबयक मिल जाओ मिरी तनहा रातों में

-


Jayantee Khare 6 AUG AT 6:34

ख़्वाबों की सरहद नहीं होती
यादों के लिए कोई हद नहीं होती
ख़्याल अग़र दरो-दीवारों से रुक पाते
तो ये बेक़ली कभी बेहद नहीं होती

-


Jayantee Khare 4 AUG AT 23:17

ख़्वाब ख़्वाब मख़मली
हुई ग़ुलाब हर कली
रात रात रतजगे
पांव पांव डगमगे

-


Jayantee Khare 2 AUG AT 20:21

ज़िन्दगी हमारी दरबदर हो रही है
लेकिन उन्हें न कोई ख़बर हो रही है
नाकाम हो रही है मुहब्बत हमारी
अब दुआ भी शायद बेअसर हो रही है

-


Jayantee Khare 2 AUG AT 7:58

रिश्तों में बेफ़िकरी हो
दिल की आलाजरफ़ी हो,
बेमतलब क्यों भीड़ बढ़ाना
चंद यार बस ज़िगरी हो....!

-


Jayantee Khare 1 AUG AT 6:40

मुहब्बत में तो लहज़ा लापरवाही का था
अदावत तेरी बड़ी पुर-ख़ुलूस निकली...!

-


Jayantee Khare 31 JUL AT 20:33

अपनी अपनी आदतें हैं
वो भुलाने की कोशिश करता है
और मैं याद दिलाने की....!

-


Fetching Jayantee Khare Quotes