ittefaq  
724 Followers · 2.9k Following

read more
Joined 27 April 2018


read more
Joined 27 April 2018
ittefaq 13 JAN AT 16:46

"चल पडे है पक्षी आशियाने की और
आसमां मे है फक्त मांजे और पतंग की डोर.."❤

-


Sorry for Re edited..❤
But surely you will love it..❤❤

26 likes · 7 shares
ittefaq 3 JAN AT 20:49

"कुछ मायनो मे हम इतने सही हुए,
फिर जो हम थे वो भी नही हुए.."

-


39 likes · 2 comments
ittefaq 1 JAN AT 21:24

"फिर मरतबा किसी जगह
मिलो कभी किसी तरह.."

-


Be in love with my words❤

46 likes · 4 comments
ittefaq 27 DEC 2019 AT 23:53

"देखा था महताब मैने भी किसी अपने में
आया था इक रोज कोई मैरे भी सपने मे.."

-


56 likes · 4 comments
ittefaq 27 DEC 2019 AT 20:42

"तबीयत तब से कुछ नासाज़ है
जब से वो मुझसे नाराज़ है.."

-


नासाज़ - शारीरिक स्थिति में शिथिलता

52 likes
ittefaq 23 DEC 2019 AT 18:29

"शाख पर बैठ पंछी है बतियाते
सर्दी मे तुम काहे नही नहाते.."

-


62 likes · 5 comments
ittefaq 17 DEC 2019 AT 20:15

"कमब्खत जब भी ये सर्दियां आती है
दरमिया तेरे मेरे बीच कुछ बढ़ सी जाती है.."

-


77 likes · 4 comments
ittefaq 30 NOV 2019 AT 23:40

"इत्तेफाक़ से ही सही चल
मिलते हैं कहीं.."❤

-


70 likes · 3 comments
ittefaq 27 NOV 2019 AT 21:28

"दिलनशी उन आँखों में जब- जब हम खो गए
वो मेरी और हम उनके हो गये.."❤

-


68 likes · 2 comments · 2 shares
ittefaq 15 NOV 2019 AT 18:57

"भूल जाते है लोग कुछ इस कदर
कहते है पहचाना नहीं आप कोन मगर.."

-


69 likes · 6 comments · 2 shares

Fetching ittefaq Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App