Dilnasheen Dilshaan   (دلشان/Dilshaan)
2.5k Followers · 147 Following

read more
Joined 30 May 2018


read more
Joined 30 May 2018
Dilnasheen Dilshaan YESTERDAY AT 16:33

دُھواں دھواں سا اٹھتا ہے۔۔۔۔۔ کہیں میرے اندر
لگتا ہے عشق جلا رہا ہے مجھے دھیرے دھیرے

धुआं धुआं सा ۔۔۔۔۔उठता है कहीं मेरे अंदर
लगता है इश्क जला रहा है मुझे धीरे धीरे।।

-


45 likes · 8 comments
Dilnasheen Dilshaan 16 OCT AT 23:03

Gazal-baat कहनी थी

बात तो कहनी थी बहुत मगर
एहतराम से नज़रें झुकी रह गई
लबों की लरजिश का आलम
और ज़ुबां दबी रह गई
कहते तो शिकायत होती
खामोशी मेरी दर्द में लिपटी रह गई
अपनी अदा को शान समझते है वोह
बाक़ी खाक़ पे मेरी ज़िंदगी रह गई
कुछ बात तो थी उसके दिल में
और मेरे दिल एक आग लगी रह गई।।

-


44 likes · 8 comments
Dilnasheen Dilshaan 16 OCT AT 14:56

खैरियत तो होती ही है साहब
मगर तुम पूछ लेते हो तो सकून
आजाता है।।
خیریت تو ہوتی ہی ہے صاحب
مگر تم پوچھ لیتے ہو تو سکون
آجاتا ہے۔

-


49 likes · 24 comments · 1 share
Dilnasheen Dilshaan 15 OCT AT 20:17

दूसरों पे निर्भर रहने से
आत्मविश्वास खो जाता है।

دوسروں پر منحصر رہنے سے
خود سے یقین ختم ہونے لگتا ہے۔

-


45 likes · 9 comments · 2 shares
Dilnasheen Dilshaan 15 OCT AT 17:52

ek tarfa mohabbat hamesha dukh ki wajah hoti hai.islye ya to isse parhez karen ya gar aap apne jazbaat pe qaboo kho chuke hain to bas itna samjhe ishq gar mukammal hojaye to ishq hi nahi hota...

-


45 likes · 6 comments
Dilnasheen Dilshaan 15 OCT AT 15:20

प्रेम त्याग का एक सुंदर नाम है।
प्रेम में त्याग सिर्फ प्रीमी से संबंध नहीं है,त्याग अपनी इच्छा का त्याग,अपने सगे संबंधी का त्याग,अपनी पिर्ये बस्तू का त्याग,समय के अनुसार बहुत कुछ त्यागना होता है प्यार में और कभी कभी जब प्रीम एक तरफा हो तो अपने प्रेमी को भी पाना कठिन होता है,और उस समय अपनी ख्वाहिशों को भी त्यागना पड़ता है।

-


39 likes · 8 comments
Dilnasheen Dilshaan 15 OCT AT 0:17

किसी वस्तु या परानी से चिपकने से
सदा वोह दूरी का कारण बनती है।

-


43 likes · 6 comments
Dilnasheen Dilshaan 14 OCT AT 22:30

محبت قربانی کا ایک حسین نام ہے۔

प्रेम त्याग का एक सुंदर नाम है।

Love is the beautiful name of sacrifice۔

-


39 likes · 9 comments · 2 shares
Dilnasheen Dilshaan 14 OCT AT 22:14

ज़िन्दगी से भय गर ख़तम हो जाए
तो मनुष्य बिल्कुल हल्का हो जाता है
फिर उसे कोई नहीं तोड़ सकता।

-


47 likes · 5 comments
Dilnasheen Dilshaan 13 OCT AT 17:12

محبت ہمیشہ خودغرضی سے پاک ہوتی ہے
اور جس میں خودغرضی ہو وہ محبت
نہیں صرف اپنی خواہش کو پورا کرنا ہے۔

प्रेम सदा निस्वार्थ होता है
और जिस में स्वार्थ हो वोह
प्रेम नहीं केवल इच्छा पूर्ति है।

-


47 likes · 14 comments · 2 shares

Fetching Dilnasheen Dilshaan Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App