दीप शिखा  
2.7k Followers · 295 Following

read more
Joined 5 July 2018


read more
Joined 5 July 2018
दीप शिखा 25 JUL AT 22:35

इक जद्दोजहद है खुद में खुद को ढूंँढ पाने की
एक उलझन तुझसे खुद को छिपाए रखना है !

-


138 likes · 46 comments · 5 shares
दीप शिखा 21 JUL AT 15:45

I think
how beautifully
it hides
all the filthiness
of the heart.

-


Show more
113 likes · 40 comments · 1 share
दीप शिखा 21 JUL AT 1:46

अतिशय प्रेम की लालसा
सर्वदा आकृष्ट करती है
जानता है पतंगा
दीप की चाह में
निश्चित है
मिट जाएगा अस्तित्व
रोक नहीं पाता
स्वयं में उमड़ते
प्रेम की अभिव्यक्ति को
लिपटता है उसकी ऊष्मा से
आत्मसात् करने
वो स्नेह
जो अंकुरित हुआ है
दीप के जलने के साथ ही
जो क्षणभंगुर नहीं
वरन्
उसकी अंतिम सांस तक
उसके साथ बना रहता है....

-


Show more
122 likes · 39 comments · 2 shares
दीप शिखा 20 JUL AT 23:45

हासिल दर्द बेतहाशा और ख़ामोश मुक़द्दर
आसां नहीं ऐ इश्क़ तेरी राह पर चलना

-


133 likes · 38 comments · 1 share
दीप शिखा 16 JUL AT 14:32

इश्क़ है अब भी तेरा दिल में मेरे बाकी
रूह बाकी है अभी जिस्म से मेरे जाना

-


156 likes · 35 comments · 1 share
दीप शिखा 16 JUL AT 14:01

ख्वाहिशों का पुलिंदा बाँध, हम चले ख्वाबों के रस्ते,
दरख़्त हौसले का और हासिल सुकूं की छाँव तो हो !

-


127 likes · 28 comments · 1 share
दीप शिखा 16 JUL AT 1:14

न जाने क्यों फलक पर हर रात टूट जाता है,
एक टुकड़ा तुझसे ऐ चाँद तेरी आवारगी का !

-


Show more
132 likes · 42 comments · 9 shares
दीप शिखा 8 JUL AT 18:38

मेरा वजूद वो लिखें अपनी चाहत की स्याही से,
कोई निशां बाकी तो रहे रेत पर इठलाती लहर की !

-


Show more
162 likes · 47 comments · 7 shares
दीप शिखा 7 JUL AT 17:11

कोई लफ़्ज न तरन्नुम और न आहट कोई
हथेली से बस मिरी तहरीर मिटा दी उसने

-


Show more
127 likes · 35 comments · 1 share
दीप शिखा 6 JUL AT 11:17

मैं वहाँ नहीं हूँ
जहाँ तुम मुझे ढूँढ रहे हो
शब्द सीमित हैं मेरे पास
तुम असीमित हो
निश्चित है
मैं तुम्हें तुम्हारी
रचनाओं में मिलूंगी
खुद को ढाल लूंगी
तुम्हारी कविताओं में
तुम तुम लिखोगे
मैं मैं समझूंगी
ये आधा अधूरा वक्तत्व
हम पूरा करेंगे
मिलकर....

-


160 likes · 59 comments · 9 shares

Fetching दीप शिखा Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App