Deepika Keshri   (©दीपिका केशरी)
487 Followers · 43 Following

read more
Joined 10 December 2016


read more
Joined 10 December 2016
Deepika Keshri YESTERDAY AT 22:52

बचपन में एक कहानी सुनी थी

प्रेम में लड़की के पंख उग आएं थे
उड़ गई थी कस्बे से वो.....

-


11 likes · 1 share
Deepika Keshri YESTERDAY AT 21:27

माँ कहती है
ये पूरी दुनिया वैदेही का घर है
जहाँ वो रहेगी अंधेरों को रौशन करेगी!

-


15 likes · 2 comments
Deepika Keshri 8 NOV AT 20:34

जीवन की सरलता
हमें उदासियों में धकेल देती है!

-


27 likes · 1 share
Deepika Keshri 7 NOV AT 0:44

और तभी एक दिन तुम्हें
खोने के लिए
मैंने तुम्हें पाया था!

-


23 likes
Deepika Keshri 31 OCT AT 21:39

तुम जाओ तो अपनी स्मृतियां भी ले जाना

और हाँ,
जाना तो दरवाजा ठीक से बंद करते हुए जाना
मैं कोई दस्तक भी न सुनूं
सुनो, मेरा सुनना अपने बोलने के संग ले जाना!

-


18 likes · 3 comments
Deepika Keshri 31 OCT AT 15:41

जब मुक्ति की चाह रखो
तब मन को बाँध बना लेना !

-


9 likes
Deepika Keshri 30 OCT AT 17:08

मिलो हमसे
एक अक्षर भर देखना है तुम्हें
आँख भर छूना!

-


27 likes · 4 comments
Deepika Keshri 24 OCT AT 22:04

इश्क़ के खोने पर
मैं भी समंदर भर रोई

मैं जो कहती थी पत्थर हूँ पत्थर

हां, मैं जानती हूँ उसके शहर में
एक नदी रहती है!

-


24 likes
Deepika Keshri 21 OCT AT 21:09

तस्वीर देखी
हां देखी, खूबसूरत हो तुम

कविता पढ़ी तुमने
हां पढ़ लिया, पागल हो तुम

बारिश देखी तुमने
नहीं देखा, आँखें भिजवा दो तुम

नींद में कभी ख्वाब को छूआ है तुमने
हां, एक रोज़ तुमको छूआ है मैंने!

-


9 likes
Deepika Keshri 19 OCT AT 23:03


प्रेम भित्तियों पर उग आएगा

तुम उसकी नींव काटना चाहोगे

तो पूरी दुनिया उसका श्यामपट्ट हो जाएगा!

-


17 likes · 1 comments

Fetching Deepika Keshri Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App