Deepak Shah   (DEEPAK शाह - 'ਸ਼ਾਹ')
4.3k Followers · 125 Following

read more
Joined 5 November 2017


read more
Joined 5 November 2017
Deepak Shah 3 JUL AT 21:30

आँख
परिन्दे की!
पा लेती है
तिनके में घरौंदा,
दिल
आशिक़ का
पा लेता है
प्रीतम में ख़ुदा

-


Show more
14 likes · 2 comments · 3 shares
Deepak Shah 3 JUL AT 12:52

आँख
परिन्दे की!
पा लेती है
तिनके में घरौंदा,
दिल
आशिक़ का
पा लेता है
प्रीतम में ख़ुदा

-


Show more
18 likes · 2 comments · 3 shares
Deepak Shah 2 JUL AT 1:40

...गुज़रें भले ही छू कर
लाखों किनारे,
चलें भले ही बनाते-मिटाते
हज़ारों नज़ारे,
ये ख़याल यूँ ही! बहते रहेंगे,
फिर इक बार अपने खो जाने तक,
फिर इक बार अपने अफ़साने से
एक हो जाने तक,
ये ख़याल यूँ ही!
बहते रहेंगे

-


Show more
23 likes · 8 comments · 1 share
Deepak Shah 2 JUL AT 1:38

...कभी उथले हो कर,
कभी छिछले हो कर,
कभी हो कर गहरे,
तो कभी लग कर ठहरे-ठहरे,
ये ख़याल यूँ ही!
बहते रहेंगे...

-


Show more
19 likes · 4 comments
Deepak Shah 2 JUL AT 1:37

...कभी उथले हो कर,
कभी छिछले हो कर,
कभी हो कर गहरे,
तो कभी लग कर ठहरे-ठहरे,
ये ख़याल यूँ ही!
बहते रहेंगे...

-


Show more
23 likes · 1 share
Deepak Shah 2 JUL AT 1:35

...अब
इन ख़यालों का राहबर,
इनका ये सफ़र है
अब इनका हमसफ़र
इनकी ये डगर है...

-


Show more
18 likes · 9 comments · 1 share
Deepak Shah 2 JUL AT 1:25

इन ख़यालों का हाथ
जाने किस मोड़ पर
अपने अफ़साने से छूट गया,
हर ख़याल हो कर
रह गया बंजारा,
वास्ता जब से
आशियाने से टूट गया...

-


Show more
17 likes · 6 comments · 1 share
Deepak Shah 1 JUL AT 0:57

हमारे कर्म कभी हमारे स्वभाव को छिप नहीं सकते।
प्रकाश का चेहरा कभी अन्धकार से आच्छादित नहीं होता।

-


29 likes · 1 comments · 1 share
Deepak Shah 30 JUN AT 16:41

...
यूँ लड़खड़ाते हुए निकले
मयख़ाने से कई,
मगर
रिन्द वही
मयकदे से निकला,
हर क़दम पे जिसके
मयख़ाना इक उठाया गया

-


Show more
20 likes · 3 comments · 2 shares
Deepak Shah 30 JUN AT 16:14

...साक़ी ने जाना
उस रिन्द को ही
जाम के क़ाबिल,
जिससे साक़ी ने पूछा, और
उससे फ़रमाया न गया,
पी उसी ने
मयख़ाने में दरअस्ल!
चख कर साक़ी की नज़रों से
फिर हाथ जाम की ओर
जिससे न बढ़ाया गया...

-


Show more
23 likes · 4 comments

Fetching Deepak Shah Quotes

YQ_Launcher Write your own quotes on YourQuote app
Open App