Chirag Mehrotra   (Shaapit)
2.7k Followers · 890 Following

read more
Joined 1 August 2019


read more
Joined 1 August 2019
16 DEC 2021 AT 22:52

आओ फिर एक दफा एक दूसरे के हो जाते हैं,
छूटी मोहब्बत की दास्तान को फिर दोहराते हैं।
खो गई कुछ यादें कुछ यादों में हम खो जाते हैं,
आओ साथ कुछ नई यादों को बनाते हैं।
आओ फिर एक दफा एक दूसरे के हो जाते हैं,
ताश के पत्तों सा बिखर गया था शहर अपना,
आओ फिर अपना आशियाना सजाते हैं।
गुम गई थी राग आशिकी की।
साथ एक नई आशिकी की धुन बजाते हैं
आओ फिर एक दफा एक दूसरे के हो जातें हैं।

-


10 NOV 2021 AT 16:58

नीयत नजरों की नजर आने लगी,
जरा सा नजरिया बदलते ही।

-


16 OCT 2021 AT 17:28

जब सवाल ही तुझ सा हसीन हो,
तो जवाब में क्या रखा है।
हम करते हैं नशा तेरी निगाहों का,
ये कमबख्त शराब में क्या रखा है।

-


14 OCT 2021 AT 23:10

होठों के बीच मुस्कान को दबा कर,
कुछ अनकही बातें कह जाते हैं।
हम तो लडके हैं जनाब,
हम सब सह जाते हैं।
जिम्मेदारियों के बोझ में,
ख्वाब अपने दफन कर जाते हैं।
हम तो लडके हैं जनाब,
हम सब सह जाते हैं।
दिल में भर एक सैलाब दर्द का,
मरहम से आंखे चुराते हैं।
हम तो लडके हैं जनाब,
हम सब सह जाते हैं।
सितम हो चाहे कितने भी हम पर,
हम गम में भी मुस्कुराते हैं।
हम तो लडके हैं जनाब,
हम सब सह जाते हैं।

-


14 OCT 2021 AT 16:06

एक वक्त जिसे बे वक्त भी वक्त दिया हमने,
आज वक्त चलते हमें ही वक्त न दे सका।

-


11 OCT 2021 AT 13:09

बहुत गुरुर था पत्थर को पत्थर होने का,
जमाने की ठोकरों ने उसे भी रेत बना दिया।

-


5 OCT 2021 AT 12:07

न तुझे पाने की तमन्ना,
न तेरे जिस्म की कभी ख्वाइश की।
जुड़ी रहे तेरे लवों से मुस्कान,
बस यही वजह थी मेरी हर साजिश की।

-


7 SEP 2021 AT 11:57

(चहरे)
कहीं खामोशी से फिर रहे,
तो कहीं हैं शोर मचाते चहरे।।

किसी की खुली किताब से हैं,
तो किसी के राज छुपाते चहरे।।

कहीं पर हैं नेकी की राहें,
तो कहीं के पिछड़े रिवाज हैं चहरे।।

कोई पहने नकाब कहीं पर,
हैं कितने चेहरों के चहरे।।

दो मतलब की बात कहीं की,
दिखे यहां शब्दों के चहरे।।

-


2 SEP 2021 AT 11:11

रोता है दिल पर ये आंखे मजबूर हैं,
बिन तेरे बीता हर लम्हा फिजूल है।
जब दिन की मुस्कान थी तुमसे,
तो गमों से भरी ये रात कबूल है।

-


31 AUG 2021 AT 17:48

दम सा घुटने लगा है तेरे नाम से,
ये तेरा अपनापन अब मुझे अपना नही लगता।

-


Fetching Chirag Mehrotra Quotes