Basant Sao  
6.7k Followers · 85 Following

read more
Joined 6 July 2018


read more
Joined 6 July 2018
11 MAY AT 13:24

एक चेहरा हो तो बताऊँ,
उस चेहरे के रूप बहुत हैं...

मेरी मोहब्बत है तो सिर्फ एक से,
पर उस एक चेहरे में मेरे मेहबूब बहुत हैं...

-


5 MAY AT 11:02

कि मेरा!,
जब जब खयालों की दुनिया
में सैर होता है...

पता चलता है,
कि पल भर का है अपनापन,
फिर तो हर कोई गैर होता है...

-


30 APR AT 9:46

क्या कहूँ यादों के बारे में,
यादें अपनी हदें पार करती है...

मैं हदों की दीवार बनाता हूँ,
यादें उन्हीं में दरार करती हैं...

-


24 APR AT 11:38

उसका नाम और पेहचान भूल जाओ,
हो सके तो मुझसे उसकी अदा पूछ लो...

खता हो गई मोहब्बत कर के,
अब मोहब्बत में हुई खता पूछ लो...

-


17 APR AT 10:19

कुछ बातें हैं जिनके बारे,
में बात नहीं करना चाहता...

अक्सर,

उसकी यादें खुद चली आती हैं,
मैं उसे याद नहीं करना चाहता...

-


12 APR AT 11:21

हालात है की बत से बत्तर होने लगी है,

रोज है कि ज़िंदगी और मौत की टक्कर होने लगी है...


फिलहाल कैद हैं घरों पर अरबों कहानियाँ,

अब ज़िंदगी भी और मौत भी घर पर होने लगी है...

-


7 APR AT 11:15

मैं अपने हिस्से की ज़मीन,
मैं अपने हिस्से का आसमान,
मैं अपनी एक दुनिया बनाना चाहता हूँ...


मैं तुम से, उस से, सब से, रब से,
तब तक के लिए,
थोड़ी दुरियाँ बढ़ाना चाहता हूँ...

-


3 APR AT 9:55

गणित कुछ ऐसी हुई ज़िंदगी की,
न कुछ जोड़ सके,
न कुछ घटा पाए...


लड़कियां भी आई और गई ज़िंदगी से,
पर न तो किसी से बात बनी,
न किसी को पटा पाए...

-


30 MAR AT 18:53

कई बातों में से एक बात,
मैंने अपने दिमाग को पढ़ा रखा है...

थे कुछ, जिन्हें सर पर चढ़ा रखा था,
अब उन्हें ज़मीन पर गड़ा रखा है...

-


25 MAR AT 10:33

कभी कभी,

कितना मुश्किल होता है,
खुद पर यकीन बनाना...

जैसे की आसमान पर,
ज़मीन बनाना...

-


Fetching Basant Sao Quotes